अगर हुआ था कोरोना तो दिवाली में पटाखों के धुएं से अपने फेफड़ों को हर हाल में बचाना है

Nawab Ali, Last updated: Wed, 3rd Nov 2021, 2:08 PM IST
  • दिवाली के मौके पर स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने चेतावनी जारी करते हुए कहा है कि जो लोग कोरोना संक्रमण से ठीक हुए हैं उन्हें पटाखों के धुंए से दूर रहना चाहिए. डॉक्टरों का कहना है कि पटाखों का धुआं फेफड़ों पर अटैक करता है. जिस कारण फिर से फेफड़ों में संक्रमण हो सकता है इस लिए सावधानी के साथ पटाखों के धुंए से दूर रहें. 
डॉक्टरों ने कोरोना संक्रमण से ठीक होने वाले मरीजों को पटाखों के धुंए से दूर रहने की सलाह दी है. फाइल फोटो

कानपुर. दिवाली के मौके पर पटाखों से होने वाले धुंए से डॉक्टर दमा और एलर्जी के मरीजों को दूर रहने की सलाह देते हैं. लेकिन इस बार डॉक्टरों ने कोरोना संक्रमण से ठीक हुए मरीजों को भी सावधान रहने की चेतावनी दी है. डॉक्टरों का कहना है कि जो लोग कोरोना संक्रमण का इलाज करा चुके हैं उन्हें पटाखों के धुंए से बचने की जरूरत है. क्योंकि कोरोना संक्रमण के कारण मरीजों के फेफड़े कमजोर हो जाते हैं. अगर धुंए से नहीं बचा पाए तो फिर से उनके फेफड़ों में संक्रमण फैल सकता है. 

देशभर में दिवाली के त्योहार का त्योहार धूम-धाम से मनाने की तैयारी चल रही है. दिवाली के मौके पर लोग पटाखे जलाकार खुशी मनाते हैं. लेकिन यह खुशी कोरोना संक्रमण से ठीक हुए मरीजों के लिए घातक साबित हो सकती है. चेस्ट विशेषज्ञ डॉ. जसवंत सिंह का कहना है कि कोरोना संक्रमण से ठीक होने वाले मरीजों के लिए पटाखों का धुआं घातक साबित हो सकता है. पटाखों से निकलने वाले धुंए के कारण आंखों और कानों में संक्रमण फैलने का खतरा है. डॉ. जसवंत का कहना है कि पटाखों का धुंआ फेफड़ों में तो बेहद नुक्सान कर सकता है.

मनीष गुप्‍ता हत्‍याकांड: CBI ने की FIR दर्ज, सभी सबूत सौंपेगी SIT, पत्‍नी मीनाक्षी ने CM योगी को कहा थैंक यू

डॉ. जसवंत ने चेतावनी देते हुए कहा है कि दिवाली पर कोरोना संक्रमण के बाद ठीक हुए मरीजों को समझदारी दिखाते हुए आतिशबाजी से दूर रहना चाहिए. क्योंकि कोरोना इंसान के फेफड़ों पर ही अटैक करता है. इसके आलावा सांस के रोगियों को भी दिवाली पर सतर्क रहने की जरूरत है, ऐसी जगहों पर बिलकुल न जाए जहां पर पटाखे जलाए जा रहे हो. बच्चों को भी एलर्जी से बचने के लिए पटाखों से दूर रहना चाहिए.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें