कानपुर में AQI 431 पर पहुंचा, लखनऊ की हवा जहरीली, बना देश का तीसरा प्रदूषित शहर

Smart News Team, Last updated: 04/12/2020 12:00 AM IST
सीपीसीबी रिपोर्ट में देश का सबसे प्रदूषित शहर कानपुर पहले नंबर पर रहा. वहीं, यूपी की राजधानी लखनऊ को तीसरे स्थान पर रखा गया है. जिसके चलते इन दोनों ही शहरों में सांस लेना मुशक्लि हो गया है.
लखनऊ और कानपुर शहर में हवा हुई जान लेवा

लखनऊ: केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा जारी रिपोर्ट के अनुसार गुरुवार को देश का सबसे ज्यादा प्रदूषित शहर कानपुर था. जहां की हवा बेहद खतरनाक और दम घोंटू रही. इसी क्रम में लखनऊ का तीसरा पायदान पर रहा. लखनऊ की रिपोर्ट इसलिए चिंता जनक है क्योंकि वहां पर वायु प्रदूषण की स्थिति में कोई सुधार नहीं हो रहा है. जिसके तहत राजधानी का वायु गुणवत्ता सूचकांक फिर से 400 के पार पहुंच गया. आपको बता दें कि देश के सबसे ज्यादा प्रदूषित शहर उत्तर प्रदेश के ही हैं. 

सीपीसीबी की रिपोर्ट में लखनऊ का एयर क्वालिटी इंडेक्स 420 पर रहा. जो अपने सभी पुरान आंकड़ें पार कर चुका है. वहीं, कानपुर की स्थिति तो बेहद खराब और निराशाजनक है. जिससे आमजन को स्वस्थ हवा भी नहीं मिल पा रही है और ना ही कोई खुले में घूम या टहल सकता है. बोर्ड के मुताबिक, कानपुर का एयर क्वालिटी इंडेक्स 431 रहा. इनके अलावा देश का दूसरा सबसे ज्यादा प्रदूषित वाला मुजफ्फुरनगर शहर रहा. जिसका एयर क्वालिटी इंडेक्स 422 पर रहा. 

CM योगी दे रहे उद्योगों को बढ़ावा, एमएसएमई इकाईयों को दिया 10,390 करोड़ का लोन

साथ ही बोर्ड की रिपोर्ट में यूपी के पश्चिम इलाकों में स्थित गाजियाबाद का 377, नोएडा का 360, दिल्ली का 341 एक्यूआई मिला है. अगर केंद्रीय प्रदूषण बोर्ड की रिपोर्ट को मानें तो इन शहरों में हवा दम घोंटू हो गई है. जिसके लिए प्रदूषण को नियंत्रित करना बेहद ज़रुरी हो गया है.

CM योगी देंगे गोरखपुर को आयुष विद्यालय की सौगात, 2022 से होगी चिकित्सा की पढ़ाई

यूपी सरकार में असफरों का फिर तबादला, आठ पीसीएस अधिकारियों के हुए ट्रांसफर

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें