महिलाओं और सरकारी कर्मचारियों को ब्लैकमेल करने वाले का भांडाफोड़, अश्लील वीडियो बनाकर की ठगी

Smart News Team, Last updated: Mon, 23rd Aug 2021, 1:50 PM IST
  • कानपुर में साइबर सेल ने एक ऐसे अपराधी को गिरफ्तार किया है जो शादीशुदा महिलाओं से दोस्ती करके अश्लील वीडियो बनाकर उन्हें ब्लैकमेलिंग करता था. पुलिस ने इस अपराधी को पकड़ लिया है और इसके पास से अश्लील वीडियो बरामद किए हैं.
महिलाओं से दोस्ती कर अश्लील वीडियो बनाकर ब्लैकमेलिंग करने वाले का खुलासा, (फाइल फोटो)

कानपुर. साइबर क्राइम को लेकर पुलिस और प्रशासन काफी सतर्क रहता है लेकिन फिर भी आए दिन साइबर क्राइम से जुड़े केस सामने आते हैं. हाल ही में साइबर सेल ने एक ऐसे अपराधी को गिरफ्तार किया है जो फेसबुक पर महिलाओं से दोस्ती कर अश्लील वीडियो बनाकर उन्हें ब्लैकमेल करता था. अपनी इज्जत को बचाने के लिए महिला इस अपराधी को काफी पैसे भी देती थीं क्योंकि इसके पास महिलाओं के अश्लील वीडियो थे. इस मामले की जानकारी जब पुलिस को हुई तो साइबर सेल ने जांच शुरू की. साइबर सेल की टीम ने ठगी करने वाले का भांडाफोड़ कर दिया. टीम ने अपराधी की ईमेल आईडी से 200 महिलाओं व पुरुषों के अश्लील वीडियो बरामद किए हैं.

साइबर सेल द्वारा पकड़ा गया यह शातिर जलालाबाद निवासी शेखर सुमन उर्फ अंकुर ओमर है. इस अपराधी को क्राइम ब्रांच ने कल्याणपुर की महिला की शिकायत पर पकड़ा है. हैरानी की बात ये है कि शाहजहांपुर का यह साइबर अपराधी अधिकतर शादीशुदा महिलाओं और सरकारी कर्मचारियों को ठगी के लिए शिकार बनाता था. पहले यह इन महिलाओं से दोस्ती करता था और फिर इन्हें अपने जाल में फंसाकर इनके अश्लील वीडियो लेकर उनसे पैसे ठगता था.

ऑनलाइन ठगी रोकने को RBI का बैंकों को निर्देश, भुगतान के लिए OTP के साथ लें ये जानकारी

आरोपी महिलाओं से फेसबुक पर दोस्ती के बाद मैसेंजर से वीडियो कॉल करके अश्लील वीडियो बनाता था. इसके बाद इन्हें वायरल करने की धमकी देकर खाते में पैसे में जमा करवाता था. क्राइम ब्रांच को पूछताछ में पता चला कि इस अपराधी ने कानपुर के साथ प्रयागराज, बरेली, आगरा, मेरठ आदि शहरों व दूसरे राज्यों में करीब एक हजार से ज्यादा महिलाओं से दोस्ती करके उन्हें अपने ठगी के जाल में फंसाता था. इस अपराधी की लिस्ट में अधिकतर पीड़ित शिक्षा विभाग, पुलिस, सेना आदि विभागों में कार्यरत कर्मचारी और शादीशुदा महिलाएं हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें