CSJMU Kanpur में नहीं होगी अब फैशन डिजाइनिंग की पढ़ाई, जानें वजह

Somya Sri, Last updated: Wed, 3rd Nov 2021, 2:16 PM IST
  • कानपुर के छत्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय में अब फैशन डिजाइनिंग कोर्स की पढ़ाई नहीं होगी. इस कोर्स को बंद करने का फैसला किया गया है. छात्रों की संख्या कम होने की वजह से साथ ही ढंग के टीचर्स नहीं मिलने के कारण विश्वविद्यालय प्रशासन ने इस कोर्स को बंद करने का फैसला किया है. कुलपति प्रोफेसर विनय कुमार पाठक ने कहा कि उन सभी कोर्स को बंद कर दिया जाएगा जिनमें छात्र की संख्या कम है. जबकि उन कोर्स को शुरू किया जाएगा जिसकी मांग ज्यादा है.
CSJMU Kanpur में नहीं होगी अब फैशन डिजाइनिंग की पढ़ाई, जानें वजह (फाइल फोटो)

कानपुर: कानपुर के छत्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय में अब फैशन डिजाइनिंग कोर्स की पढ़ाई नहीं होगी. इस कोर्स को बंद करने का फैसला किया गया है. अब इस कोर्स में नए एडमिशन नहीं लिए जाएंगे. फैशन डिजाइनिंग के कोर्स में छात्रों की संख्या कम होने की वजह से साथ ही ढंग के टीचर्स नहीं मिलने के कारण विश्वविद्यालय प्रशासन ने इस कोर्स को बंद करने का फैसला किया है. विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर विनय कुमार पाठक ने कहा कि उन सभी कोर्स को बंद कर दिया जाएगा जिनमें छात्र की संख्या कम है. जबकि उन कोर्सों को शुरू किया जाएगा जिन कोर्सों की मांग अधिक है. उन्होंने कहा कि जिन सेल्फ फाइनेंस कोर्स में छात्रों की संख्या कम होगी आने वाले समय में उन कोर्स को बंद कर दिया जाएगा.

जानकारी के मुताबिक छत्रपति शाहूजी महाराज विश्वविद्यालय में इस वक्त फैशन डिजाइनिंग कोर्स में द्वितीय वर्ष में केवल 30 छात्र ही हैं. वहीं तृतीय वर्ष में सिर्फ 15 छात्र पढ़ाई कर रहे हैं. जबकि इस पाठ्यक्रम के लिए 60 सीट निर्धारित की गई थी. विश्वविद्यालय प्रशासन का कहना है कि इस कोर्स के लिए ढंग के फैकेल्टी भी नहीं मिल रहे हैं. इसलिए सत्र 2021-22 में इस कोर्स को बंद करने का फैसला लिया गया है. अब इसमें दाखिला नहीं लिया जाएगा.

मनीष गुप्‍ता हत्‍याकांड: CBI ने की FIR दर्ज, सभी सबूत सौंपेगी SIT, पत्‍नी मीनाक्षी ने CM योगी को कहा थैंक यू

बता दें कि जो छात्र इस वक्त इस कोर्स को पढ़ रहे हैं उन्हें किसी भी प्रकार का नुकसान ना हो इसके लिए विश्वविद्यालय प्रशासन ने एक्सिस कॉलेज से मदद मांगी है. पढ़ाई से लेकर प्रैक्टिकल सभी चीजों में एक्सिस कॉलेज की फैकेल्टी ही अब सीएसजेएमयू के छात्रों की मदद एक्सिस कॉलेज ही कर रही है. बता दें कि यह पहला मौका नहीं है जब किसी विश्वविद्यालय में किसी भी कोर्स को बंद किया गया हो. इससे पहले भी कई ऐसे कोर्सेज हैं जो कई कॉलेज में बंद किए जाते रहे हैं. विद्यार्थियों के कमी के कारण और टीचर नहीं मिलने के कारण कोर्स को बंद कर दिया जाता रहा है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें