यूपी में डेंगू का कहर जारी, कानपुर में डेंगू और वायरल बुखार ने ली दो की जान

Sumit Rajak, Last updated: Fri, 1st Oct 2021, 5:29 PM IST
  • उत्तर प्रदेश में डेंगू और वायरल बुखार से हालत बिगड़ते ही जा रहे हैं. कानपुर में डेंगू और वायरल बुखार से दो लोगों की मौत हो गई है. कानपुर के फतेहपुर निवासी गोरेलाल (68) और घाटमपुर की निवासी अंशिका कुमारी (14) की मौत हो गई . वहीं कानपुर की हालत गंभीर स्थिति में पहुंच गया है.
प्रतीकात्मक फोटोः(फाइल फोटो)

कानपुर: उत्तर प्रदेश में डेंगू और वायरल बुखार से हालत बिगड़ते ही जा रहे हैं. कानपुर में शुक्रवार को डेंगू और वायरल बुखार से दो लोगों की मौत हो गई है. उत्तर प्रदेश के अन्य जिलों में कई लोगों में डेंगू के लक्षण होने की पुष्टि हुई है. सैकड़ों की संख्या में मरीज  जिलों के प्राइवेट अस्पताल में भर्ती होकर उपचार भी करा रहे हैं. वही कानपुर में हालत गंभीर स्थिति में पहुंच गया है. वहां आए दिन डेंगू और वायरल बुखार से मौतों की संख्या बढ़ती जा रही है.

 

कानपुर के फतेहपुर निवासी गोरेलाल (68) को बुखार से हालत खराब होने से फतेहपुर जिला अस्पताल में भर्ती कराया. जहां उनका सात दिनों तक इलाज चला. स्थिति में सुधार नहीं होने से नर्सिंग होम में भर्ती कराया और वहां इलाज चल रहा था. घाटमपुर की निवासी अंशिका(14) बुखार से बीमार थी. डेंगू की पुष्टि होने के बाद सीएससी में भर्ती करवाया. जहां इलाज चल रहा था. सीएससी के डॉक्टरों ने अंशिका को हैलट रेफर किया .लेकिन परिवार जनों ने उसे चकेरी के नर्सिंग होम में भर्ती करा दिया. जहां उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई. कानपुर में सैकड़ों लोग वायरल बुखार की चपेट में है.

कानपुर में CM योगी: 550 करोड़ से ज्यादा की दी शहरवासियों को सौगात, मेट्रो-एयरपोर्ट पर कही ये बात

 

उत्तर प्रदेश में डेंगू और वायरल बुखार से लगातार मौत से राज्य सरकार के लिए चिंता का विषय बन चुका है .उत्तर प्रदेश के अन्य जिलों में डेंगू और वायरल बुखार से मौत हो रही है.

 

अब कानपुर चिड़ियाघर में हो सकेंगे रंग-बिरंगी तितलियों का दीदार, कैबिनेट मंत्री आज करेंगे उद्घाटन

 

सर्राफा बाजार 1 अक्टूबर का रेट: लखनऊ, कानपुर, वाराणसी, मेरठ, आगरा, प्रयागराज, गोरखपुर में सस्ता हुआ सोना-चांदी

 

कानपुर में मनीष गुप्ता के पिता से मिले AAP नेता संजय सिंह, बोले- CBI करे जांच

 

IDSP प्रभारी की बड़ी लापरवाही, गलत नाम-पते दर्ज कर बताया उन्हें डेंगू मरीज

 

 

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें