कानपुर में पानी के लिए हाहाकार, गंगा बैराज से साउथ सिटी होने वाली जलापूर्ति बंद

Smart News Team, Last updated: 03/11/2020 07:01 PM IST
  • कानपुर के काकादेव में लीकेज ठीक करने के लिए जल निगम ने मंगलवार से ही गंगा बैराज से साउथ सिटी में रोजाना होने वाली डेढ़ करोड़ लीटर जलापूर्ति बंद कर दी है. ऐसे में कानपुर की साउथ सिटी में पानी का संकट काफी बढ़ गया है.
कानपुर की साउथ सिटी में पानी का संकट काफी बढ़ा

कानपुर: कानपुर में पीने के पानी के लिए हाहाकार मच गया है. दरअसल, कानपुर के काकादेव में लीकेज ठीक करने के लिए जल निगम ने मंगलवार से ही गंगा बैराज से साउथ सिटी में रोजाना होने वाली डेढ़ करोड़ लीटर जलापूर्ति बंद कर दी है. ऐसे में कानपुर की साउथ सिटी में पानी का संकट काफी बढ़ गया है. वहां की करीब तीन लाख जनता को पीने के पानी के लिए जूझना पड़ रहा है. हालांकि, इससे राहत देने के लिए जलकल विभाग ने नलकूपों के संचालन का समय बढ़ा दिया है. वहीं, शहर में जहां पीने के पानी की जरूरत है, वहां टैंकर से पीने का पानी पहुंचाया जा रहा है.

कानपुर के फूलबाग में भी लीकेज के कारण जलापूर्ति बंद कर दी गई थी. हालांकि, सोमवार से पानी की आपूर्ति शुरू करने के बाद यहां के दो लाख लोगों को राहत मिली है. दूसरी और काकादेव क्षेत्र में चार दिन से लीकेज जारी है, जिससे लाखों लीटर पानी अभी भी सड़कों पर बह रहा है. इससे सड़क भी उस क्षेत्र में काफी धंस रही है. लीकेज को लेकर महापौर प्रमिला पांडेय ने भी नाराजगी जताई थी.

कानपुर- घाटमपुर और बांगरमऊ विधानसभा उपचुनाव के लिए मतदान शुरू

बैराज से फूलबाग में जलापूर्ति शुरू होने के बाद मंगलवार को जल निगम ने लीकेज ठीक करने के लिए बैराज से साउथ सिटी के लिए सुबह ही जलापूर्ति बंद कर दी. इसके साथ ही लीकेज ठीक करने का काम शुरू कर दिया गया है. जलापूर्ति बंद होने से निराला नगर, साकेत नगर, बर्रा दो से सात तक, गोविंद नगर समेत कई इलाकों में पानी का संकट बन गया है. जल निगम के परियोजना प्रबंधक शमीम अख्तर ने आश्वासन दिया है कि लीकेज जल्द से जल्द ठीक किया जाएगा. हालांकि, इस काम में करीब तीन दिन लग जाएगे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें