कानपुर के कुरसौली में नहीं कम हो रहा अंजान बुखार का कहर, अब तक 15 मौत

Deepakshi Sharma, Last updated: Wed, 13th Oct 2021, 2:57 PM IST
  • कानपुर के कुरसौली गांव में अंजान बुखार ने आफत मचाई हुई है. मरने वालों की संख्या कम होती नहीं दिख रही. अब तक इस बीमारी के चलते 15 लोगों की जान जा चुकी हैं, जिनमें बच्चे भी शामिल हैं.
कानपुर के कुरसौली में अंजान बुखार से 15 लोगों की मौत

कानपुर. कोरोना के बाद अब वायरल लोगों की जान ले रहा है. बुखार के चलते दो बच्चियों समेत चार मरीजों की जान चली गई है. एक बच्ची कुरसौल गांव की रहने वाली है. इस गांव में यह 15वीं मौत बताई जा रही है. इस बच्ची को खून की उल्टियां भी हुई. वहीं, दूसरी बच्ची मकसूदाबाद की रहने वाली थी. अब ऐसी आशंका जताई जा रही है कि कुछ दिनों से जो अंजान बुखार कुरसौली में शांत अपना असर कम दिखा रहा था अब उसके संक्रमण ने रफ्तार तेज कर ली है. कुरसौली के आसपास के गांवों के लोग भी आशंकित हो गए हैं. इस गांव के रहने वाले रमजानी की बेटी सबीना को गुरुवार के दिन बुखार हो गया.

शुक्रवार वाले दिन फिर सबीना को उर्सला में भर्ती कराया गया. रमजानी ने बताया कि डॉक्टरों ने प्लेटलेट्स लाने के लिए कहा, जिसका इंतजाम नहीं हो पाया. शनिवार के दिन सबीना को घर ले आए. घर आने के बाद उसे खून की उल्टियां होने लगी. इस बारे में गांव में कैंप कर रही स्वास्थ्य विभाग की टीम के सीएमओ डॉ. नैपाल सिंह को बताया गया. हैलट के बालरोग अस्पताल में सोमवार के दिन रात को डॉ. अमितेश के अंडर में सबीना को भर्ती कराया गया. तुरंत ही सबीना के लिए सीएमएस डॉ. मनीष यादव ने तुरंत प्लेटलेट्स की व्यवस्था करवाई, लेकिन मंगलवार की दिन सबीना की मौत हो गई.

BJP विधायक के बयान का विरोध कर रहे सपाइयों से पुलिस की झड़प, हंगामा

सबीना की डेंगू जांच की रिपोर्ट निगेटिव आई थी. उर्सला के फिजीशियन डॉ. सर्वजीत सिंह ने रिपोर्ट दी है कि सबीना रविवार के दिन भर्ती हुई थी. उसके परिवार वाले प्लेटलेट्स का इंतजाम नहीं कर पाए और उसे लेकर घर चले गए. वहीं, कल्याणपुर के अनिल वर्मा की भी बुखार के चलते मौत हो गई. उन्हें सांस लेने में तकलीफ हो रही थी. यशोदानगर के रामप्रसाद की हैलट में इलाज के वक्त उसकी मौत हो गई. उन्हें करीब 10 दिन से बुखार आया हुआ था. उन्हें निजी नर्सिंगहोम से हैलट रेफर कर दिया गया.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें