कोरोना से श्रम अधिकारी की मौत के बाद अस्पताल कर्मचारी ने चुराए मोबाइल, अंगूठी

Smart News Team, Last updated: 16/08/2020 09:51 PM IST
  • कानपुर. चोरी करते हुए कर्मचारी की सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई फुटेज. कर्मचारी ने दो मोबाइल, पंद्रह हजार नगद और एक सोने की अंगूठी पर हाथ साफ किया.
प्रतीकात्मक तस्वीर 

कानपुर. कोरोना महामारी ने धीरे-धीरे अपराध को भी जन्म देना शुरू कर दिया है. कोरोना संक्रमित लोगों की लाश को उनके परिजनों को नहीं सौंपे जाने के चलते लाश में मिली चीजों को कर्मचारी चुराने लगे हैं. अस्पताल कर्मचारियों द्वारा चोरी किए जाने की कई वारदात सामने आने लगी हैं. ऐसा ही एक मामला कानपुर के रामा अस्पताल में पाया गया है.

दरअसल कानपुर के श्रम प्रवर्तन अधिकारी कमलेश कुमार मिश्र की कोरोना के चलते रामा अस्पताल के मंधना में मौत हो गई. इसके बाद उनके पास रखा सामान कर्मचारी ने चोरी कर लिया.

परिजनों ने जब उनकी लाश देखी तो उन्होंने इस बात की शिकायत की. अस्पताल प्रबंधन द्वारा शिकायत दर्ज नहीं होने पर परिजनों ने इसकी शिकायत स्थानीय थाने बिठूर में दर्ज कराई. परिजनों ने थाने में लिखित तहरीर देकर चोरी की घटना की शिकायत की. इसके बाद पहुंची पुलिस घटना की जांच में जुट गई.

चकेरी जाजमऊ निवासी उत्कर्ष मिश्रा ने बताया कि उनके पिता कमलेश मिश्र मुजफ्फरनगर में श्रम प्रवर्तन अधिकारी हैं. 11 जुलाई को उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आ गई जिसके बाद उन्होंने उन्हें रामा हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया.14 जुलाई की शाम उनकी कोरोना से मौत हो गई. इसके बाद जब परिजनों ने उनकी लाश देखा तो उनके हाथ में पहनी हुई अंगूठी, मोबाइल व 15000 रुपये गायब मिले.

परिजनों ने अस्पताल पर चोरी का आरोप लगाया और चोरी की घटना को लेकर हंगामा शुरू कर दिया. हंगामा शुरू होने पर अस्पताल के एक कर्मचारी ने नाटकीय ढंग से की-पैड वाला मोबाइल तो लौटा दिया लेकिन अन्य सामान नहीं लौटाए. परिजनों ने बताया कि मृतक के पास दो मोबाइल, 15000 रुपये नगद व एक सोने की अंगूठी थी.

घटना की जांच कर रहे थाना प्रभारी कौशलेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि मामले में जांच की जा रही है.फुटेज से चोरी करने वाले कर्मचारी की पहचान करने का प्रयास किया जा रहा है. सीसीटीवी फुटेज में एक कर्मचारी चोरी करते हुए पाया गया है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें