कानपुर हैलट में डॉक्टरों और स्टाफ के बीच झगड़ा, इमरजेंसी वार्ड के बाहर हंगामा

Smart News Team, Last updated: Tue, 11th May 2021, 11:46 PM IST
  • कानपुर के हैलट अस्पताल में मंगलवार को डाॅक्टर और स्टाफ के बीच झगड़ा हो गया. इस झगड़े से गुस्साए कर्मचारियों ने काम ठप करके इमरजेंसी वार्ड के बाहर हंगामा और नारेबाजी की. बाद में पुलिस सुपरवाइजर को थाने ले गई.
कानपुर के हैलट अस्पताल में डॉक्टरों ने कर्मचारियों के साथ मारपीट की. प्रतीकात्मक तस्वीर

कानपुर. कोरोना के संकट के बीच उत्तर प्रदेश के कानपुर के हैलट अस्पताल के इमरजेंसी के बाहर कर्मचारियों ने काम ठप करके हंगामा और नारेबाजी की. मिली जानकारी के अनुसार, हैलट इमरजेंसी में सीनियरों डाॅक्टरों ने आउसोर्सिंग के सफाई कर्मचारी और सुपरवाइजर को पीटा. इसके बाद गुस्साए कर्मचारियों ने काम ठप करके इमरजेंसी के बाहर हंगामा और नारेबाजी शुरू कर दी. इस घटना के बाद स्वरूप नगर थाने की पुलिस पीड़ित सुपरवाइजर को थाने ले गई. 

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश में बीते दिनों कोरोना के बहुत कम केस आए हैं. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को टीम 9 के साथ कोरोना को लेकर मीटिंग की है. सीएम ने कहा कि हर संदिग्ध और लक्षण वाले व्यक्ति का एंटीजन टेस्ट कराया जाए और आरआरटी टीम की संख्या भी बढ़ाई जाए.

कानपुर IIT अस्सिटेंट रजिस्ट्रार ने लगाई फांसी, बेटे को कोरोना होने से थे परेशान

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हर जिले में बच्चों के स्वास्थ्य के लिए विशेष व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं. उन्होंने हर जिला अस्पताल में कम से कम 10-15 बेड, मेडिकल काॅलेज में 25-30 बेड और मंडल मुख्यालय में 100 बेड की क्षमता वाले पीडियाटिक आईसीयू तैयार करने को कहा है. उन्होंने सभी जिला अस्पतालों में जरूरी दवाइयां और चिकित्सीय उपकरण की उपलब्धता सुनिनिश्चत करने के निर्देश दिए हैं. डाॅक्टरों और मेडिकल स्टाफ का प्रशिक्षण कराने का भी निदेश दिया है.

कानपुर-लखनऊ हाईवे किनारे बेसुध मिली युवती, अस्पताल में भर्ती, रेप की आशंका

यूपी में कोरोना के मामलों में काफी गिरावट आई है. मिली जानकारी के मुताबिक, बीते 24 घंटे में प्रदेश में कोरोना के 21 हजार 277 नए केस मिले हैं. वहीं 29 हजार 709 लोग कोरोना वायरस से पूरी तरह से ठीक हो चुके हैं. उत्तर प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोविड से 278 लोगों की मौत हो चुकी है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें