बिकरू कांड में अब आईबी ने शुरू की पड़ताल, अब तक 53 से की पूछताछ

Smart News Team, Last updated: 27/12/2020 01:30 PM IST
एसआईटी जांच में 147 करोड़ रुपये की अवैध संपत्ति प्रकाश में आई थी। जिसे बिकरू कांड से जुड़े दर्जनों लोगों ने आपस में बांट लिया था। इसी मामले की जांच अब आईबी ने शुरू की है। इस मामले में पहले से ही ईडी और ईओडब्ल्यू ने जांच कर रही हैं।
जय बाजपेयी और विकास दुबे के कारनामों की जांच में जुटी आईबी

कानपुर : प्रवर्तन निदेशालय (ईडी),  आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) के बाद अब इंटेलीजेंस ब्यूरो (आईबी) ने बिकरू कांड के मुख्य आरोपितों विकास दुबे और जय सिंह के कारनामों की जांच शुरू कर दी है।  आईबी अब तक बिकरू कांड से संबंधित 53 लोगों से पूछताछ कर चुकी है।

बिकरू कांड में विकास दुबे और जय बाजपेयी से जुड़े दर्जनों लोग हैं। माना जा रहा है कि एसआईटी जांच में जो 147 करोड़ रुपये की अवैध संपत्ति प्रकाश में आई थी, वो इन लोगों के बीच बांटी गई थी। सीएम के निर्देश पर ईडी ने इन संपत्तियों की जांच शुरू कर दी है। इसके अलावा ईओडब्ल्यू और आईबी भी अपने स्तर से जांच में जुट गई हैं। इस प्रकरण में आईबी के सक्रिय होने की सूचना है। 

सूत्रों के मुताबिक आईबी ने विकास व जय सिंह के खिलाफ शिकायत करने वाले सौरभ भदौरिया से पिछले दिनों पूछताछ की है। सौरभ ने विभिन्न एजेंसियों के साथ ही आईबी में भी शिकायत दर्ज करवाई थी।  खबर है कि आईबी ने इस मामल में कई लोगों से पूछताछ की है।

स्वास्थ्य सेवा में मदद करेगा फास्ट मोबाइल ऐप, सीबीएसई के शिक्षक करेंगे डाउनलोड 

कलेक्ट्रेट के क्लर्क और दो सेवानिवृत्त कर्मचारियों  की जांच 

विकास दुबे और उसके सहयोगियों के शस्त्र लाइसेंस बनाने के मामले में कलेक्ट्रेट से सेवानिवृत्त दो कर्मचारियों और डीएम कोर्ट में तैनात पेशकार का नाम सामने आया है। इन तीनों की ही जांच शुरू कर दी गई है। उधर बिकरू गांव में सीओ समेत आठ सिपाहियों की हत्या के मामले की जांच के लिए चीनी उद्योग एवं गन्ना विकास विभाग के अपर मुख्य सचिव की अध्यक्षता में एसआईटी का गठन किया गया था।

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें