IIT कानुपर में 50 हजार रुपये महीने की फेलोशिप का मौका, स्टूडेंट्स ऐसे कर सकते हैं आवेदन

Deepakshi Sharma, Last updated: Tue, 19th Oct 2021, 1:01 PM IST
  • आईआईटी कानपुर ने कृषि स्तर को बढ़ावा देने के लिए एक प्रतियोगिता शुरू की है. किसानों की मदद अच्छी तरह से हो सकें इसके लिए ये कदम उठाया गया है. उसके लिए स्टार्टअप तैयार करने वाले को 50 हजार रुपये प्रति माह की फेलोशिप दी जाएगी.
IIT कानपुर में 50 हजार की फेलोशिप पाने का मौका

कानपुर. कृषि के स्तर को बढ़ावा देने के लिए आईआईटी कानपुर ने एक प्रतियोगिता शुरू की है. किसानों की मदद बेहतरीन तरीके से हो सके उसके लिए स्टार्टअप तैयार करने वाले को 50 हजार रुपये की प्रति माह की फेलोशिप दी जाएगी. इस प्रतियोगिता को प्रायोजित करने का काम संस्थान के स्टार्टअप इंक्यूबेशन एंड इनोवेशन सेंटर की तरफ से किया जाएगा. इस प्रतियोगिता में महिला किसानों को राहत प्रदान कराने वाले स्टार्टअप को ज्यादा महत्व दिया जाएगा.

इस कार्यक्रम का मकसद छोटे किसानों पर एक सकारात्मक प्रभाव पैदा कराने को लेकर यूपी में कृषि के क्षेत्र में गहरी प्रौद्योगिकियों को विकसित करने वाले छात्रों और नए स्नातकों का समर्थन करना है. 50 हजार के अलावा फेलो को आईआईटी कानपुर के बुनियादी ढांचे, कानूनी और बाकी वित्तीय सेवाओं साथ ही एक स्टार्टअप सपोर्ट इकोसिस्टम तक दिया जाएगा.

कानपुर नगर निगम पहले कागजों पर खोदेगा 8 लाख का गड्ढा फिर करेगा भराई, पढ़ें पूरा मामला

IIT कानपुर फेलोशिप के ये हैं फोकस डोमेन

निम्नलिखित डोमेन में काम करने वाले छात्र और स्नातक फेलोशिप के लिए आवेदन कर सकते हैं:

- क्लाइमेट रेसिलिएंट टेक्नोलॉजी

- वीमेन फ्रेंडली एग्रो मशीनरी

- लॉ कॉस्ट एग्रो मशीनरी

- पोस्ट हार्वेस्ट क्रॉप मैनेजमेंट

- इनोवेशन फॉर हाई रेवेन्यू

- फिशरीज एंड एनिमल हसबेंडरी

IIT कानपुर फेलोशिप के लिए कर सकेंगे ये आवेदन

- उम्मीदवार एक छात्र या हाल ही में स्नातक हुआ स्टूडेंट होना चाहिए जो इंजीनियरिंग या विज्ञान और इंजीनियरिंग विषयों के अंदर कोई कोर्स कर रहा हो.

- आवेदक की उम्र 35 वर्ष से कम होनी चाहिए.

- उम्मीदवार को उत्तर प्रदेश में छोटे होल्डर वाले किसानों के लिए एक एग्रीटेक हाल विकसित करना चाहिए.

UP विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष सुखदेव राजभर का निधन, BSP सुप्रीमो मायावती ने जताया दुख

IIT कानपुर फेलोशिप में ऐसे करें आवेदन

इच्छुक प्रतिभागियों को 15 नवंबर 2021 से पहले आधिकारिक वेबसाइट पर आवेदन जमा करने होंगे. पात्रता और कार्यक्रम मानदंड के लिए आवेदकों की जांच की जाएगी और विशेषज्ञ पैनल के लिए एक प्रस्तुति भी देनी पड़ सकती है. जो लोग आवेदन जमा करना चाहते हैं, वे अधिक जानकारी के लिए आधिकारिक वेबसाइट देख सकते हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें