Kanpur Zoo में बनेगा डायनासोर पार्क, बोर्ड बताएगा प्रजातियां और इतिहास के बारे में

Anurag Gupta1, Last updated: Wed, 17th Nov 2021, 10:42 PM IST
  • कानपुर चिड़ियाघर में डायनासोर हमेशा से आकर्षण का केंद्र रहा है. चिड़ियाघर में डायनासोर पार्क बनाया जाएगा. जिसमें एक बोर्ड के माध्यम से डायनासोर के इतिहास और प्रजातियों के बारे में बताएगा. बाल ट्रेन स्टेशन के पास डायनासोर पार्क बनाया जा रहा है.
कानपुर चिड़ियाघर (फाइल फोटो)

कानपुर. चिड़ियाघर में डायनासोर हमेशा से बच्चों के आकर्षण का केंद्र रहा है. इस विशालकाय स्टेच्यू को ही बच्चे दूर से ही देखकर काफी आनंद लेते हैं. ये स्टेच्यू चिड़ियाघर में एक दूसरे के पीछे दौड़ते हुए दिखाई पड़ते हैं. लेकिन अब वो स्टेच्यू दौड़ते हुए बाहर आ रहे हैं और बच्चे उसे काफी करीब से देख पाएंगे. साथ उसके साथ सेल्फी भी ले पाएंगे.

कानपुर जू में घूमने वाले असली जानवरों से ज्यादा स्टेच्यू वाले डायनासोर को देखना पसंद करते हैं. विशालकाय शरीर वाला डायनासोर जो लुप्त हो चुका है लेकिन उसके बारे में जानने और देखने की लोगों के अंदर हमेशा से उत्सुकता रहती है. इसी कारण से कानपुर जू का डायनासोर आकर्षण का केंद्र रहता है. अभी तक लोग इसे ट्रेन से जाते हुए देखते थे लेकिन अब और करीब से देखेंगे.

जितेंद्र मौत केस: पोर्टमार्टम रिपोर्ट में नहीं हुए मौत के कारणों की पुष्टि, मामला उलझा

बच्चों से लेकर बड़ों तक आकर्षण का केंद्र:

चिड़ियाघर के निदेशक डॉ. शेष नारायण मिश्रा ने बताया कि विलुप्त हो चुका विशालकाय शरीर वाला ये जानवर हमेशा से ही बच्चों से लेकर बड़ों के बीच आकर्षण का केंद्र रहा है. दर्शक अब इसे करीब से देख और उसके बारे में जान सकेंगे. बाल ट्रेन स्टेशन के पास डायनासोर पार्क बनाया जा रहा है. पार्क में हरी घास के बीच गिरे पड़े शाकाहारी डायनासोर के पीछे दौड़ते मांसाहारी विलुप्त जीव के साथ सेल्फी लेना दर्शकों को बेहद पसंद आएगा. इन सभी स्टेच्यू का रंगरोगन दोबारा किया जाना है. निर्माण कार्य भी शुरू हो गया है. यह अगले करीब 15 दिन में पूरा हो जाएगा. उसके बाद चिड़ियाघर आने वाले इसका भी लुफ्त उठा पाएंगे.

ये होगी खासियत:

डायनासोर पार्क में एक विशेष बोर्ड भी लगाया जाएगा. ये डायनासोर का इतिहार बताएगा बोर्ड. ये बोर्ड डायनासोर के इतिहास और उनकी सभी तरह की प्रजातियों के बारे में दर्शकों को पूरी जानकारी देगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें