कानपुर में SP MLC पुष्कर जैन के ठिकानों पर इनकम टैक्स की जांच पूरी, कार्रवाई शुरू

Smart News Team, Last updated: Tue, 4th Jan 2022, 2:59 PM IST
  • कानपुर में समाजवादी पार्टी के MLC पुष्कर जैन उर्फ पम्पी के ठिकानों पर आयकर विभाग की जांच पूरी हो गई. दरअसल पम्पी जैन के कानपुर आवास से पुलिस के पहरे को हटा लिया गया है. बताया जा रहा है इनकम टैक्स की टीम अब विभागीय कार्रवाई शुरू करने जा रही है.
कानपुर में SP MLC पुष्कर जैन के ठिकानों पर इनकम टैक्स की जांच पूरी, कार्रवाई शुरू

कानपुर (वार्ता). समाजवादी पार्टी के विधान परिषद सदस्य पुष्पराज जैन उर्फ़ पंपी के कन्नौज और कानपुर के ठिकानों पर आयकर विभाग की छापेमारी मंगलवार को पूरी हो गई. इनकम टैक्स की रेड पम्पी जैन के यहां पर पूरी होने के बाद पुलिस के पहरे को हटा दिया गया है. साथ ही अब इनकम टैक्स की टीमें में वहां से निकल रही है.

गौरतलब है कि सोमवार को कानपुर के कई ठिकानों पर जांच के बाद देर रात सपा एमएलसी को आईटी की टीम कन्नौज वापस ले गई. मंगलवार को कन्नौज में उनके आवास एवं अन्य जगहों से पुलिस का पहरा भी हटा लिया गया है. माना जा रहा है कि आईटी की टीम जांच पूरी कर अब विभागीय कार्रवाई में जुट गई है.

सपा MLC पुष्पराज जैन टैक्स चोरी मामले में आयकर विभाग के हिरासत में, पूछताछ जारी

समाजवादी इत्र लांच करने वाले कारोबारी ‘पम्पी’ के कन्नौज में कर चोरी के मामले में चार दिन पूर्व शुक्रवार को इनकम टैक्स की टीम ने छापेमारी की थी. सपा एमएलसी के कन्नौज सहित अन्य शहरों में 35 ठिकानों पर एक साथ शुरू की गई रेड की कार्रवाई के दौरान बोगस कम्पनियों के जरिए करोड़ों की कर चोरी का मामला सामने आया है.

साथ ही नकदी एवं आय के अन्य श्रोतों का आयकर की टीम को पता चला है. छापेमारी के बीच ही सोमवार को आयकर की टीम सपा एमएलसी को लेकर कानपुर पहुंची और उनके छोटे भाई अनूप जैन के फ्लैट में छापेमारी करते हुए दस्तावेज खंगाले.

आईटी की टीम कानपुर में जांच पूरी कर देर रात सपा एमएलसी को लेकर वापस कन्नौज पहुंची. सूत्रों की मानें तो कानपुर में जांच के दौरान टीम को विदेशी लेनदेन और फर्जी कंपनीज के लेनदेन की भी बात सामने आई है. इस बीच सपा एमएलसी ‘पम्पी’ जैन के भाई से कार्रवाई को लेकर पूछा गया तो उन्होंने कहा कि पूरी जांच के बारे में दो दिन बाद बताएंगे. कार्रवाई के दौरान आईटी की टीम को क्या मिला इस सवाल पर उन्होंने कहा कि वह सब बताएंगे, लेकिन कुछ समय दीजिए.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें