प्रीमियम जमा करने के नाम पर ठगी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश, 5 आरोपी गिफ्तार

Smart News Team, Last updated: Fri, 11th Jun 2021, 8:10 PM IST
  • कानपुर में क्राइम ब्रांच ने बीमा जमा करने के नाम पर छूट देने के लालच में बीमा धारको से पैसे की ठगी करने वाले एक गिरोह का पर्दाफाश किया है. क्राइम ब्रांच ने इससे सम्बन्धित पांच अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया है.
प्रीमियम जमा करने के नाम पर ठगी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश

कानपुर। कानपुर में साइबर ठगी के मामले का जांच करते हुए क्राइम ब्रांच को इंश्योरेंस प्रीमियम जमा करने के बदले छूट देने के नाम पर ठगी करने वाला गिरोह हाथ लग गया. ये ठग इंश्योरेंस प्रीमियम जमा करने में छूट के नाम पर 33 खातों से पैसे की ठगी करते थे.

गौरतलब है कि बर्रा तत्याटोपे नगर के रहने वाले अमित गुप्ता से 15 अप्रैल 2021 को इंश्योरेंस का प्रीमियम जमा करने के नाम पर साइबर ठगो ने 51 हजार की ठगी ठगी कर ली थी. जिसके बाद क्राइम ब्रांच इस मामले की छानबीन कर रही थी. जिसमें प्रीमियम जमा करने के नाम पर छूट का लालच दे कर लोगों से पैसे की ठगी करने वाले गिरोह क्राइम ब्रांच के हत्थे चढ़ गए. जिसमें दिल्ली के उत्तम नगर निवासी करण शर्मा, डलमऊ रायबरेली का रहने वाला वरुण, दिल्ली के ही रहने वाला आशीष कनौजिया उर्फ जटायु, इटावा निवासी शिवम उर्फ फई हैं. 

लोहा फर्म को नोटिस भिजवाने पर कारोबारी ने की खुदकुशी, अधिकारियों पर लगा मानसिक प्रताड़ना का आरोप

वहीं एडीसीपी अपराध ने गुरुवार को इस गिरोह के बारे में बताते हुए बताया कि शिवम गिरोह का सरगना है. गिरोह के पांच लोगों को गिरफ्तार करने के साथ ही क्राइम ब्रांच ने इन आरोपियों के पास से चार एटीएम, एक लैपटॉप, आठ मोबाइल, 15 मोबाइल चार्जर, 11 सिम कार्ड, 7440 रुपए नगद साथ ही अलग-अलग कंपनियों का बीमा धारकों का डाटा बरामद किया है.

एडीसीपी अपराध दीपक भूकर ने बताया कि ये गिरोह लखनऊ के एक फ्लैट से संचालित होता था. साथ ही इसके दो अपराधी अमन और आशीष लोगो की नजर में धुल झोंकने के लिए लखनऊ में कपड़े का दुकान चलाता था. लेकिन दोनों का मूल काम साइबर ठगी ही करना था.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें