बिकरू कांड के मुख्य आरोपी विकास दुबे की पत्नी ऋचा की अग्रिम जमानत मंजूर

Smart News Team, Last updated: Sat, 30th Jan 2021, 9:42 AM IST
  • विकास दुबे की पत्नी ऋचा दुबे को धोखाधड़ी के मामले में इलाहाबाद हाईकोर्ट से अग्रिम जमानत मिल गई है. साथ ही उसे सक्षम अदालत द्वारा पुलिस रिपोर्ट पर संज्ञान लिए जाने तक जमानत पर रहने का आदेश दिया है. बताते चलें कि कानपुर के चौबेपुर थाने में ऋचा दुबे के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज है.
कानपुर के चौबेपुर थाने में ऋचा दुबे के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज है.

कानपुर- बिकरू कांड के मुख्य आरोपी विकास दुबे की पत्नी ऋचा दुबे को धोखाधड़ी के मामले में इलाहाबाद हाईकोर्ट से अग्रिम जमानत मिल गई है. साथ ही उसे सक्षम अदालत द्वारा पुलिस रिपोर्ट पर संज्ञान लिए जाने तक जमानत पर रहने का आदेश दिया है. बताते चलें कि आदेश न्यायमूर्ति सिद्धार्थ ने ऋचा दुबे की अग्रिम जमानत याचिका पर उसके अधिवक्ता प्रभाशंकर मिश्र को सुनकर दिया है.

आपको बताते चलें कि कानपुर के चौबेपुर थाने में ऋचा दुबे के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज है. अग्रिम जमानत याचिका पर ऋचा दुबे का पक्ष रख रहे अधिवक्ता प्रभाशंकर मिश्र ने अपनी बहस में कहा कि याची पर अपने मोबाइल में मऊ के निगोहा निवासी महेश का सिम कार्ड लगाकर इस्तेमाल करने का आरोप है. साथ ही उन्होंने कहा कि इसके अलावा याची पर अन्य कोई आरोप नहीं है. याची ने इस फोन नंबर का उपयोग किसी अपराध में नहीं किया है.

कानपुर मेट्रो के निर्माण कार्य में तेजी, नवंबर में हो सकता है ट्रायल

अधिवक्ता प्रभाशंकर मिश्र का आरोप है कि कि चौबेपुर थाने के इंस्पेक्टर ने याची के खिलाफ झूठा मुकदमा दर्ज किया है. उसका कोई अपराधिक इतिहास नहीं रहा है. बताते चलें कि याची को 18 दिसंबर को 2020 को अंतरिम अग्रिम जमानत न्यायालय द्वारा मिल चुकी है. साथ ही कोर्ट ने अग्रिम जमानत स्वीकार करते हुए याची को जमानत की शर्तों के पालन का आदेश दिया है.

कानपुर: गोपाल नगर में चाकू गोदकर महिला की हत्या, मौके पर पहुंची पुलिस

HBTU में आयोजित किया गया दूसरा दीक्षांत समारोह, छात्रों को मिले मेडल और डिग्री

महिला कैदियों के साथ सजा भुगतने को मजबूर उनके बच्चे

पेट्रोल डीजल 30 जनवरी का रेट: लखनऊ, वाराणसी, कानपुर, मेरठ, आगरा में स्थिर रहे दाम

यूपी बोर्ड के छात्रों को सिखाया जाएगा स्पेनिश, फ्रेंच, जर्मन और शास्त्रीय भाषा

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें