सीएमएम की कोर्ट में पेश किया गया मास्टरमाइंड विकास दुबे का खजांची जय बाजपेयी

Smart News Team, Last updated: 17/10/2020 05:15 PM IST
  • विकास दुबे के खजांची जय बाजपेयी को मुख्य महानगर मजिस्ट्रेट की कोर्ट में पेश किया गया है, जहां मुख्य महानगर मजिस्ट्रेट चिंताराम ने उसका न्यायिक रिमांड मंजूर कर लिया है. रिमांड की मंजूरी के बाद जय को माती जेल में भेज दिया गया है.
सीएमएम की कोर्ट में पेश किया गया जय बाजपेयी

कानपुर: बिकरु कांड के मास्टरमाइंड विकास दुबे के खजांची जय बाजपेयी को मुख्य महानगर मजिस्ट्रेट की कोर्ट में पेश किया गया है, जहां मुख्य महानगर मजिस्ट्रेट चिंताराम ने उसका न्यायिक रिमांड मंजूर कर लिया है. जय बाजपेयी को विधानसभा साचिवालय का फर्जी पास लगाकर घूमने, दंगे और सीएलए से जुड़े मामलों में अदालत में पेस किया गया था. वहीं, रिमांड की मंजूरी के बाद जय को माती जेल में भेज दिया गया है.

बता दें कि बीते शुक्रवार को जय बाजपेयी को दो अलग-अलग मामलों में सीएमएम कोर्ट ने तलब किया था. इसमें से पहला मामला फरवरी 2020 में उसके खिलाफ नजीराबाद थाने में दर्ज बलवा, गैर सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने और सेवन सीएलए से जुड़ा है. वहीं, दूसरा जय द्वारा विधानसभा साचिवालय का फर्जी पास लगाकर घूमने का था. अपने पहले मामले में जय अभी तक कोर्ट में हाजिर नहीं हुआ था, ऐसे में अधिवक्ता शिवाकांत दीक्षित ने उसे तलब करने के लिए कोर्ट में प्रार्थनापत्र दिया.

कानपुर: अवैध निर्माण के खिलाफ कार्रवाई, टीम पर हुआ पथराव, BJP नेता समेत 3 घायल

जय की गाड़ी पकड़े जाने के बाद जब पुलिस ने जांच की तो पास के फर्जी होने की बात सामने आई. इस मामले को लेकर काकादेव पुलिस ने उसके खिलाफ धोखाधड़ी, फर्जी दस्तावेज बनाने और उन्हें प्रयोग करने का मुकदमा दर्ज किया है. इसी मामले को लेकर ही न्यायिक रिमांड लेने के लिए विवेचक ने कोर्ट में अर्जी दी थी जिसके कारण आरोपी जय को माती कोर्ट से दोपहर 12 बजे लाकर सीएमएम कोर्ट में पेश किया गया. वहीं, सीएमएम ने दोनों ही मामलों में न्यायिक रिमांड स्वीकार करते हुए जय को न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया. कोर्ट ने जय का बयान दर्ज करने के लिए विवेचक को जेल जाने की भी अनुमति दे दी है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें