कानपुर: खेत में मिला मुगलकालीन सिक्कों से भरा कलश, मजदूरों ने आपस में बांटा

Smart News Team, Last updated: Sun, 13th Dec 2020, 10:12 AM IST
  • सचेंडी में खुदाई के दौरान धातु के सिक्कों से भरा कलश मजदूर आपस में बांटकर हुए फरार, मौके पर पहुंचे सचेंडी थाना के एसएचओ देवेन्द्र कुमार सोलंकी ने सभी 35 सफेद धातु के सिक्के बरमाद करके पुरातत्व विभाग को खबर की
कानपुर: खेत में मिला मुगलकालीन सिक्कों से भरा कलश, मजदूरों ने आपस में बांटा (प्रतीकात्मक तस्वीर)

कानपुर: कानपुर में खेत को लेवल (बराबर) करने के दौरान खुदाई में मुगलकालीन सिक्‍कों से भरा कलश मिला. ग्रामीणों के बीच सोने के सिक्के और खजाना मिलने की अफवाह जंगल की आग की तरह फैल गई. खेत पर काम कर रहे मजदूरों ने सिक्के आपस में बांट लिया और मौके से फरार हो गए.जब ग्रामीणों ने इसकी सूचना पुलिस को दी. तब पुलिस ने पूछताछ की तो पता चला कि सफेद धातु के मुगलकालीन सिक्के निकले थे. काफी मशक्कत और खोज बिन के बाद पुलिस ने खेत मालिक और मजदूरों से 35 मुगलकालीन सिक्के बरामद कर लिए.

संचेडी थाना क्षेत्र स्थित सुरार गांव में रहने वाले ब्रजकिशोर पांडेय का खेत गांव के बाहर है. खेत पर एक बहुत बड़ा मिट्टी का टीला था. ब्रजकिशोर खेत से टीला हटवाकर प्लाटिंग कराने की तैयारी कर रहे थे. ब्रजकिशोर ने इस काम के लिए चचेरे भाई बीनू पांडेय और गांव के श्याम सिंह को लगाया था. वहीं ट्रैक्टर चालक रजनीश पाल मिट्टी से रास्ता बना रहा था. तभी अचानक मिट्टी के ढेर में मजदूरों ने कुछ चमकीला धातु देखा जो एक फूटे हुए घड़े से निकला. और जब वहां मौजूद लोगों ने आकलन कि तो वह मुगलकालीन धातु का सिक्का निकला वहां मौके पर मौजूद सभी कर्मचारीयों ने ये तय किया कि ये बात किसी को नहीं बताएंगे और धातु के सिक्के को आपस में बराबर-बराबर बांटकर फरार हो गए. लेकीन तबतक किसी ने पुलिस को खबर कर दी थी.

31 मार्च तक अगर PAN-Aadhar लिंक नहीं किया तो, हो सकता है 10 हजार का जुर्माना

पुरातत्‍व विभाग को दी गई सूचना

सूचना पर पहुंची पुलिस ने सभी से सिक्के बरामद किए हैं. सचेंडी एसओ देवेंद्र कुमार सोलंकी के मुताबिक, खेत से प्राचीनकालीन सिक्के मिले थे. सिक्के में उर्दू भाषा में कुछ लिखा हुआ है. ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने कर्मचारियों से 35 सिक्के बरामद किए हैं. इसकी सूचना पुरातत्व विभाग को दे दी गई है.

डाक्टरों को योगी कि चेतावनी सरकारी नौकरी छोड़ने पर भारी जुर्माना, होंगे डिबार

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें