कानपुर के आनंदेश्वर महादेव मंदिर के 2 महंत गिरफ्तार, कोर्ट ने भेजा जेल

Smart News Team, Last updated: Tue, 13th Jul 2021, 7:55 PM IST
  • कानपुर पुलिस ने परमट स्थिति आनंदेश्वर मंदिर के दो मंहतों महंत रामदास और महंत चेतन गिरी को चोरी करने के आरोप में गिरफ्तार किया है. हालांकि अभी भी दोनों महंतों के 6 साथी फरार चल रहे हैं.
गिरफ्तार किए गए दोनों महंतों पर लाखों के जेवरात और नगदी चोरी करने का आरोप है

कानपुर के परमट स्थिति आनंदेश्वर महादेव मंदिर से जुड़ी एक बड़ी जानकारी सामने आई है. दरअसल परमट स्थिति आनंदेश्वर महादेव मंदिर के दो महंत महंत रामदास और महंत चेतन गिरी को पुलिस ने चोरी के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है. जूना अखाड़ा हरिद्वार के महंत प्रेमगिरी ने 3 जुलाई को दोनों महंतो समेत कुल 8 के खिलाफ पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई थी. हालाकि दोनों के 6 साथी अभी फरार चल रहे हैं.

बता दें कि महंत रामदास और चेतन गिरी पर अपने साथियों के साथ मिलकर दान पात्र और खजाने में रखे बक्सों का ताला तोड़कर लाखों के जेवरात और नगदी चोरी और मंदिर की देखरेख कर रहे जुना अखाड़े के संतों को धमकाने का आरोप है. पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया था. कोर्ट ने मामले की सुनवाई करने के बाद दोनों महंतो को न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. सीसीटीवी फुटेज में दोनों संत दानपात्र का ताला तोड़ते हुए देखे गए थे.

AAP सांसद संजय सिंह बोले- ओपी राजभर की केजरीवाल से कोई मुलाकात तय नहीं

बाबा आनंदेश्वर मंदिर का महंत कौन होगा इसको लेकर काफी लंबे समय से विवाद चल रहा है. साल 2011 से मंदिर के महंत को लेकर विवाद चल रहा है. महंत रमेश पुरी के ब्रह्मलीन के बाद मंदिर के महंत का पद खाली है. पंच दशननाम जूना अखाड़ा के संत ही मंदिर की व्यवस्था देख रहे हैं. वर्ष 2021 में महंत श्याम गिरी और उनके शिष्य महंत रामदास के बीच मंदिर के महंत को लेकर विवाद हो गया था. इस मामले में श्याम गिरी को गिरफ्तार भी कर लिया गया था. हालांकि बाद में जूना अखाड़े के संतों ने उनकी जमानत कराई थी.

बेटी की हत्या कर फरार था पिता, अगले दिन बाग में फांसी पर लटका मिला शव

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें