CM योगी ने कानपुर और आगरा मेट्रो की पहली प्रोटोटाइप ट्रेन का किया वर्चुअल अनावरण

Ankul Kaushik, Last updated: Sat, 18th Sep 2021, 12:56 PM IST
  • उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कानपुर एवं आगरा मेट्रो की प्रथम प्रोटोटाइप ट्रेन का अनावरण किया. इस मौके पर सीएम योगी ने यूपी मेट्रो और मेसर्स एल्सटॉम ट्रांसपोर्ट इंडिया लिमिटेड के अधिकारियों को बधाई दी.
CM योगी आदित्यनाथ ने किया कानपुर एवं आगरा मेट्रो की प्रथम प्रोटोटाइप ट्रेन का वर्चुअल अनावरण, फोटो क्रेडिट (यूपी मेट्रो)

कानपुर. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इस समय गोरखपुर में मौजूद हैं. गोरखपुर के मंदिर में बने अपने कार्यालय से ही सीएम योगी ने कानपुर एवं आगरा मेट्रो की प्रथम प्रोटोटाइप ट्रेन का वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए अनावरण किया. कानपुर एवं आगरा मेट्रो की प्रथम प्रोटोटाइप ट्रेन का अनावरण करने के बाद सीएम योगी ने यूपी मेट्रो और मेसर्स एल्सटॉम ट्रांसपोर्ट इंडिया लिमिटेड के अधिकारियों को बधाई दी इस मौके पर सीएम योगी ने कहा कि यूपी की मेट्रो ट्रेन आगरा तथा कानपुर के विकास में मील का पत्थर साबित होगी.

सीएम योगी ने कहा कि यह अत्यंत उल्लास का क्षण है और मुझे प्रसन्नता की अनुभूति हो रही है कि देश की सबसे बड़ी आबादी का राज्य उत्तर प्रदेश आज अपने 04 शहरों में पब्लिक ट्रांसपोर्ट की इस बेहतरीन सुविधा का संचालन करने हेतु प्रयासरत है. इसके साथ ही सीएम योगी ने कहा कि हम सभी ने यूपी मेट्रो की कोरोना महामारी के समय में भी बिना रुके, बिना थके, बिना डिगे की कार्यपद्धति देखी है. यही कारण है कि आगामी 30 नवंबर के आस-पास हम कानपुर मेट्रो रेल राष्ट्र को समर्पित करने की स्थिति में होंगे.

UP के युवाओं को रोजगार का मौका, हर जिले में 4 अक्टूबर से लगेगा अप्रेंटिसशिप मेला

इन शहरों के विकास के बारे में बात करते हुए सीएम योगी ने कहा गोरखपुर, वाराणसी, प्रयागराज, झांसी और मेरठ में भी मेट्रो की सेवा के लिए या तो DPR भेजी जा चुकी है या फिर यह प्रक्रिया अंतिम स्थिति में है. इसलिए शीघ्र ही इन शहरों में भी पब्लिक ट्रांसपोर्ट की बेहतरीन सुविधा देखने को मिलेगी. इससे पहले लखनऊ, गाजियाबाद, नोएडा और ग्रेटर नोएडा में मेट्रो सेवा संचालित है और वर्तमान में कानपुर और आगरा में मेट्रो की पब्लिक ट्रांसपोर्ट सेवा को उपलब्ध कराने के लिए यूपी मेट्रो काफी तेजी से कार्य कर रही है. हमें विदेशी संस्थाओं पर निर्भर रहना पड़ता था लेकिन अब हम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आत्म निर्भर के तहत काम कर रहे हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें