कानपुर में भेल पुरी बेचने वाली की बेटी कनिष्का ने मॉडलिंग में बनाया मुकाम

Smart News Team, Last updated: Sat, 3rd Apr 2021, 8:59 PM IST
  • नवाबगंज इलाके की रहने वाली कनिष्का ने मॉडलिंग में बहुत मुकाम हासिल कर लिया है. तत्काल ही उसने मिस इंडिया ग्लोबल का मुकाम पाया है. उसका कहना है कि अब वह केवल भातखंडे कॉलेज से कत्थक की डिग्री हासिल करके अपना इंस्टिट्यूट खोलेगी और बच्चों को निशुल्क कत्थक सिखाएगी.
कानपुर के नवाबगंज इलाके में रहने वाली कनिष्का त्रिवेदी मिस इंडिया ग्लोबल बनीं

कानपुर. कहते हैं ना कि प्रतिभा किसी अमीर की जायदाद नहीं यह हर घर में हो सकती है चाहे वह गरीब हो या अमीर , प्रतिभा किसी की मोहताज नहीं रहती. इसको साबित किया है कानपुर के नवाबगंज इलाके में रहने वाली कनिष्का त्रिवेदी ने. कनिष्का के पिता राजेश त्रिवेदी मुंबई भेलपुरी की दुकान में एक कर्मचारी हैं. एक निम्न मध्यमवर्गीय संयुक्त परिवार में कनिष्का पैदा हुई. कक्षा 6 से ही इसने ठान लिया था कि भविष्य में कुछ ना कुछ मुकाम हासिल करेगी और इसने तभी से ही कत्थक नृत्य सीखना शुरू कर दिया.

कनिष्का ने इंटर तक की पढ़ाई नवाबगंज इलाके के दुर्गावती गर्ल्स इंटर कॉलेज से की फिर उसके बाद लखनऊ स्थित भातखंडे कॉलेज से कत्थक में ग्रेजुएशन कर रही है. कनिष्का ने नृत्य में कई प्रतियोगिताएं जीती. अचानक से इसके मन में मॉडलिंग का शौक उभर कर आया. कानपुर स्तर की कई मॉडलिंग की प्रतियोगिताओं में इसने जीत हासिल की तो इसमें आगे बढ़ने की एक ललक उभर कर आई.

कानपुर कार्डिओलॉजी में 3 दिन में 3 बार आगजनी, अब देर रात 3 बजे 2 कमरों में आग

 2019 में कनिष्का ने मिस नॉर्थ इंडिया का खिताब जीता. इसके बाद 2021 में मिस इंडिया यूनिवर्स का खिताब अपने नाम किया और तत्काल में इसने मिस इंडिया ग्लोबल का खिताब जीता. कनिष्का का आगे का विचार है कि उसने मॉडलिंग में बहुत कुछ हासिल कर लिया है, अब वह केवल भातखंडे कॉलेज से कत्थक की डिग्री हासिल करके अपना इंस्टिट्यूट खोलेगी और बच्चों को निशुल्क कत्थक सिखाएगी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें