गायत्री प्रजापति को जेल भिजवाने वाली महिला ने एक और नेता पर लगाए गंभीर आरोप

Smart News Team, Last updated: 12/09/2020 12:24 PM IST
  • दुष्कर्म के आरोप में सपा सरकार में खनन मंत्री रहे गायत्री प्रजापति जेल गए उस पीड़िता ने योगी सरकार में दर्जा प्राप्त राज्यमंत्री गो सेवा आयोग के सदस्य भोले सिंह उर्फ कृष्ण कुमार सिंह पर गंभीर आरोप लगाए हैं.
दुष्कर्म के आरोप में सपा सरकार में खनन मंत्री रहे गायत्री प्रजापति जेल गए उस पीड़िता ने योगी सरकार में दर्जा प्राप्त राज्यमंत्री गो सेवा आयोग के सदस्य भोले सिंह उर्फ कृष्ण कुमार सिंह पर गंभीर आरोप लगाए हैं.

कानपुर. जिस महिला से दुष्कर्म के आरोप में सपा सरकार में खनन मंत्री रहे गायत्री प्रजापति जेल गए उस पीड़िता ने योगी सरकार में दर्जा प्राप्त राज्यमंत्री गो सेवा आयोग के सदस्य भोले सिंह उर्फ कृष्ण कुमार सिंह पर गंभीर आरोप लगाए हैं. पीड़िता ने प्रेस कांफ्रेस में कहा कि वह जेल गए आरोपित राम सिंह को बचाने की कोशिश कर रहे हैं. वह पूर्व मंत्री प्रजापति को राम सिंह के साथ मिलकर उसके नाम पर लूट रहे थे. वहीं राम सिंह भोले सिंह को मामा कहते हैं. पीड़िता ने बताया कि दोनों हॉस्पिटल में कई बार पूर्व मंत्री से मिले. 

कानपुर में लव जिहाद का एक और केस, रमन बोलकर दोस्ती, अफजल बोलकर शादी

गुरुवार रात लखनऊ से चित्रकूट पहुंची पीडि़त महिला ने अपने आवास पर मीडिया को बताया कि उसकी जान को खतरा है. एसपी ने अब सुरक्षा भी हटा ली है. महिला ने कहा कि वह पहले से कहती रही हैं कि पूर्व मंत्री ने उनके साथ दुष्कर्म नहीं किया है फिर भी हमीरपुर निवासी राम सिंह, अधिवक्ता दिनेशचंद्र त्रिपाठी आदि ने उनके फर्जी हस्ताक्षर से रिपोर्ट दर्ज कराई और बेटी को बंधक बनाकर कोर्ट में बयान दिलाए. पीड़िता का कहना है कि बिना कुसूर पूर्व मंत्री चार साल जेल में रहे. लेकिन अब मैं उनके पक्ष में सही बोल रही हूं तो मेरे खिलाफ गाजीपुर थाने में झूठा मामला दर्ज कराया गया है.

RSS चिंतन शिविर में बोले मोहन भागवत- एकल परिवार से युवाओं में बढ़ी बुरी आदतें

पीड़िता ने कहा कि उनका गायत्री प्रजापति से पिता पुत्री का रिश्ता है. करोड़ रुपये के लेन-देन को लेकर सफाई देते हुए उन्होंने कहा कि आयकर विभाग चाहे तो इसकी जांच कर सकता है. साथ ही पूर्व मंत्री का नारको टेस्ट भी करा लिया जाए. महिला ने आरोप लगाया कि राम सिंह और अधिवक्ता दिनेशचंद्र ही पूर्व मंत्री को लूटते रहे हैं. ऐसे लोगों की शिकायत करने पर उन पर ही मुकदमा दर्ज कर प्रशासन गलत व्यवहार कर रहा है. पीड़िता ने कहा कि अगर कहीं न्याय नहीं मिलेगा तो सीएम की चौखट तक जाएंगा.

कानपुर: ठेकेदार से लड़ रहे फौजी ने महिला वार्ड पार्षद को पीटा, पिस्तौल तानी, केस

उधर महिला के आरोपों पर गो सेवा आयोग के सदस्य भोले सिंह ने कहा कि ठाकुर और लोधी मामा कैसे हो सकते हैं. उन्होंने कहा कि राम सिंह को सिर्फ छह महीने से जानता हूं. पीडि़ता ने राम सिंह पर दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया था. वह उसी की पैरवी को लेकर मेरे पास आए थे. भोले सिंह ने कहा कि पूर्व मंत्री किस अस्पताल में भर्ती थे उन्हें मालूम नहीं है फिर मुलाकात कैसे संभव है. आरोप कोई कुछ भी लगा सकता है, जांच से सच्चाई सामने आएगी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें