ICMR कोरोना वैक्सीन का दूसरा ट्रायल पूरा, वालंटियर्स में मानक से अधिक एंटीबॉडीज

Smart News Team, Last updated: 13/09/2020 01:15 PM IST
  • कानपुर में आईसीएमआर (ICMR) द्वारा कोरोना वैक्सीन को लेकर दूसरा मानव क्लीनिकल ट्रायल पूरा कर लिया गया है. ट्रायल में वालंटियर्स में मानक से अधिक एंटीबॉडीज पाए गए हैं.
Coronavirus Vaccine.

कानपुर. कोरोना वैक्सीन को लेकर अच्छी खबर आई है. कानपुर में आईसीएमआर (ICMR) द्वारा कोरोना वैक्सीन को लेकर ट्रायल चल रहा है. खबर के मुताबिक कोरोना वैक्सीन (बीबीवी 152 कोविड वैक्सीन) का दूसरा मानव क्लीनिकल ट्रायल पूरा कर लिया गया है. बताया जा रहा है कि अभी तक सभी में मानकों से ज्यादा एंटीबॉडीज वालंटियर्स में पाए गए हैं. 

जानकारी के अनुसार कोरोना वैक्सीन के पहले ट्रायल की तरह दूसरे ट्रायल के दौरान में भी किसी वालंटियर को कोई समस्या नहीं हुई है. शनिवार को ट्रायल करने वाली टीम ने दूसरे चरण ट्रायल में शामिल 42 वालंटियरों की रिपोर्ट दिल्ली स्थित आईसीएमआर को भेज दी है. वहीं, पहले ट्रायल में 33 वालंटियरों की एंटीबॉडीज टाइटर टेस्ट केल परिणाम भी सामने आने लगे हैं. बताया जा रहा है कि कोरोना वैक्सीन के ट्रायल के रिजल्ट अच्छे आ रहे हैं.

नीट 2020: बाली, बूंदी पर रोक, मास्क-सेनेटाइजर और हेल्थ एफिडेविट बिना नो एंट्री

ट्रायल टीम की माने तो नए साल पर आईसीएमआर द्वारा कोरोना वैक्सीन लांच कर दी जाएगी. कानपुर में आईसीएमआर की तरफ से चयनित प्रखर अस्पताल में 75 वालंटियर्स पर कोरोना वैक्सीन का ट्रायल हुआ है. ट्रायल टीम के चीफ गाइड डॉ. जेएस कुशवाहा के मुताबिक पहले ट्रायल के परिणाम में पाया गया है कि 33 वालंटियरों में अच्छी एंटीबॉडीज विकसित हो गई हैं. वैक्सीन ट्रायल किए जाने के बाद सभी वालंटियर्स में मानक से ज्यादा यानी 15 से काफी ज्यादा एंटीबॉडीज का पता लग रहा है.

ऑनलाइन चल रहा था सेक्स रैकेट का गोरखधंधा, 9 कॉलगर्ल, 11 दलाल और ग्राहक गिरफ्तार

डॉ. जेएस कुशवाहा ने बताया कि कारगर वैक्सीन के लिए अब आईसीएमआर ने अक्तूबर में तीसरे ट्रायल का फैसला किया है. इस ट्रायल से स्पष्ट होगा कि वैक्सीन ट्रायल मानकों पर खरा उतर रही है. डॉ.कुशवाहा ने यह भी बताया कि उम्मीद है कि नए साल पर कोरोना की देसी वैक्सीन लांच हो जाएगी. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें