दशहरा से पहले KDA वीसी ने 12 कर्मचारियों को किया प्रमोट, चपरासी से बने बाबू

Prince Sonker, Last updated: Fri, 15th Oct 2021, 2:45 AM IST
  • केडीए उपाध्यक्ष ने विजयदशमी से पहले प्राधिकरण में कार्यरत 12 चपरासियों को प्रमोट कर बाबू बना दिया है. पदोन्नति की प्रक्रिया टाइपिंग टेस्ट, लिखित परीक्षा और इंटरव्यू के बाद पूरी की गई है.
केडीए उपाध्यक्ष अरविंद सिंह (फाइल फोटो)

कानपुर. केडीए उपाध्यक्ष अरविंद सिंह ने विजयदशमी से पहले प्राधिकरण के कई कर्मचारियों को प्रमोट कर बड़ा उपहार दिया है. केडीए वीसी ने गुरुवार को 12 चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों (चपरासी) को प्रमोशन देकर बाबू (क्लर्क) बना दिया. केडीए में कई सालों से क्लर्क के पद खाली पड़े हुए थे. इस कमी को दूर करने के लिए केडीए बोर्ड की बैठक में उन चपरासियों को भर्ती करने का निर्णय लिया गया था जो पढ़े लिखे हैं फिर भी पानी पिलाने और फ़ाइल पहुंचाने का काम करते हैं. पदोन्नति की प्रकिया डेढ़ वर्षों से चल रही थी. पदोन्नति का आदेश जैसे ही जारी हुआ कर्मचारी और उनके परिजन खुशी से झूम उठे.

 

नियमावली के अनुसार कुल सृजित ग श्रेणी के पदों का 20 प्रतिशत,घ श्रेणी के कर्मचारियों की पदोन्नति से भरे जाने का नियम है. पदोन्नति के लिए त्रिस्तरीय परीक्षा हिन्दी टाइपिंग टेस्ट, लिखित परीक्षा एवं साक्षात्कार के रूप में होती है. 13 पदों के लिए कुल 51 कर्मचारियों द्वारा आवेदन दिया गया था जिसमें से 5 वर्ष की सेवा पूर्ण न किए जाने के कारण 2 आवेदनों को अयोग्य ठहराते हुए कुल 49 आवेदन पात्र पाए गए. इनमें से 36 कर्मचारियों ने प्राधिकरण के बाहर की एजेंसी द्वारा मार्च 2021 में आयोजित कराए गए टाइपिंग टेस्ट में हिस्सा लिया. इनमें से मात्र 12 कर्मचारी पास हुए. इनकी लिखित परीक्षा ली गई.

कानपुर: नगर आयुक्त का बड़ा फैसला, कूड़ा उठाने वाले वाहनों पर लगाया जीपीएस

उत्तर पुस्तिकाओं की जांच भी प्राधिकरण के बाहर के एसोसिएट प्रोफेसर से कराई गई. कई माह साक्षात्कार नहीं हो सका. आखिरकार उपाध्यक्ष ने समिति गठित करते हुए 12 अक्तूबर को साक्षात्कार कराया. इसके बाद तत्काल पत्रावली तैयार कराकर निस्तारण किया गया और उपाध्यक्ष द्वारा नवमी के अवसर पर परिणाम घोषित कर 12 कर्मचारियों को पदोन्नति का तोहफा दिया गया. उपाध्यक्ष ने सभी कर्मचारियों और परिवार के सदस्यों को दशहरा और दीपावली की बधाई दी है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें