बिकरूकांड: DM का आदेश- जब्त होंगी जय बाजपेई की करोड़ों की रकम वाली 11 संपत्तियां

Smart News Team, Last updated: 05/09/2020 09:55 AM IST
  • कानपुर के कुख्यात अपराधी विकास दूबे के अकांउटेंट जय बाजपेई की करोड़ों की संपत्ति को जब्त करने के आदेश दे दिए गए हैं. इसके साथ ही शुक्रवार को जय के तीनों भाइयों ने कोर्ट में सरेंडर कर दिया.
बिकरू कांड के आरोपी

कानपुर: बिकरू कांड के कुख्यात अपराधी विकास दुबे के साथी जयकांत वाजपेई की 11 संपत्तियां जब्त करने का आदेश दिया गया है. शुक्रवार देर रात डीएम आलोक तिवारी ने चल अचल संपत्तियों को जब्त करने के आदेश दिए हैं. पुलिस ने आरोपियों के ब्रह्मनगर के घर, फ्लैट, प्लॉट, चार लग्जरी कारें, बाइकों समेत 11 संपत्तियों को जब्त करने की सिफारिश की थी.

आपको बता दें कि बिकरू कांड के बाद चर्चा में आए विकास के फंड मैनेजर जयकांत बाजपेई के खिलाफ कार्रवाई जारी है. शुक्रवार को दिन में जय के फरार तीनों भाइयों ने कोर्ट में सरेंडर किया वहीं देर रात संपत्ति जब्त करने के आदेश जारी हो गए. पुलिस की जांच में इन संपत्तियों को अवैध पाया गया था. डीआईजी ने जांच रिपोर्ट  के आधार पर डीएम से संपत्तियों को जब्त करने की सिफारिश की थी.

बिकरू कांड: विकास दूबे का साथी छोटू अब तक गुमनाम, FIR में दर्ज है नाम

संपत्ति जब्तीकरण आदेश के बाद अब संबंधित थानेदार और तहसीलदार को डीएम कार्यालय से नोटिस जारी होगा. यही नोटिस पुलिस और तहसील की संयुक्त टीम जय और उसके भाइयों की सम्पत्तियों पर लगाएगी. जानकारी के मुताबिक नोटिस में आरोपियों को कुछ दिन का समय दिया जाएगा लेकिन नोटिस की समय सीमा पूरी होते ही प्रशासन सम्पत्तियों को जब्त कर लेगा.

कानपुर : विकास के साथी जय को बचाने की कोशिश करने वाले तीन दरोगा सस्पेंड

डीआईजी डा. प्रीतिन्दर सिंह ने कहा कि जांच में पता चला है कि आरोपी जयकांत और उसके भाइयों ने गलत तरीके से तमाम संपत्तियां बनाई थी . जांच में आए तथ्यों के आधार पर संपत्ति जब्त करने के लिए डीएम को संस्तुति की गई थी. जिलाधिकारी ने संपत्तियों को जब्त करने का आदेश दिया है. बाकी और सम्पत्तियों के बारे में भी जानकारी जुटाई जा रही है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें