स्मार्ट मीटर लगाने पर रोक, कानपुर में फिर लगेंगे पुराने मीटर

Smart News Team, Last updated: 23/09/2020 11:01 AM IST
यूपी में स्मार्ट मीटर लगाने पर रोक लगा दी गयी है. इसके देखते हुए कानपुर इलेक्ट्रिसिटी सप्लाई कंपनी (केस्को) ने पुराने मीटर का ऑर्डर देने शुरू कर दिया है. स्मार्ट मीटर में आ रही तकनीकी दिक्कतों के कारण यह फैसला लिया गया है. नए कनेक्शन लेने वालोे को भी पुराने मीटर लगाने का विकल्प दिया गया है.
स्मार्ट मीटर लगाने पर रोक, कानपुर में फिर लगेंगे पुराने मीटर

कानपुर. यूपी और कानपुर समेत पूरे प्रदेश में स्मार्ट मीटर लगाने पर रोक लगा दी गयी है. नए कनेक्शन के लंबित मामलों का जल्द ही निपटारा किया जाएगा. जिनके भी पोस्टपेड कनेक्शन है उनके घरों में पुराने मीटर लगने शुरू हो जाएंगे. इसको देखते हुए कानपुर इलेक्ट्रिसिटी सप्लाई कंपनी  (केस्को) ने ऑर्डर देना शुरू कर दिया है. 

शुरुआती चरण में पांच हजार मीटर मगांए जाएंगे. पुराने मीटर लगाने का काम जब तक चलता रहेगा जब तक स्मार्ट मीटर पर लगी रोक नहीं हटती. स्मार्ट मीटर में आ रही तकनीकी दिक्कतों के कारण और आम लोगों को हुई परेशानियों को ध्यान में रखते हुए यह फैसला लिया गया है. इस वजह से नए बिजली कनेक्शन भी रिलीज नहीं हो पा रहे थे. इसलिए जब तक समस्या सुलझ नहीं जाती तब तक पोस्ट पेड के नए बिजली कनेक्शन लगवाने वालों के लिए भी पुराने मीटर लगाने का विकल्प दिया गया है. यूपीपीसीएल ने राज्य में प्रीपेड और पोस्ट पेड़ स्मार्ट मीटर लगाने पर रोक लगा दी है. 

कानपुर: विकास दुबे गैंग चार्ट में जय बाजपेई और उसके भाई समेत 25 लोग नामजद

मौजूदा समय में स्मार्ट लगते थे इसलिए पुराने मीटर नहीं थे. इसलिए इसका ऑर्डर देना पड़ा. पुराने मीटर करीब एक हफ्ते में आ जाएंगे उसके बाद नए कनेक्शन रीलिज होंगे. जब तक के लिए लोगों को इंतजार करना होगा.

कानपुर: घाटमपुर पहुंचे डिप्टी सीएम, किया 242 करोड़ की परियोजनाओं का शिलान्यास

कल यानी की 24 सितंबर को कानपुर इलेक्ट्रिसिटी सप्लाई कंपनी (केस्को) बिजली के रेट बढ़ाने को लेकर मंथन होगा. इसके लिए नियामक आयोग ने केस्को की हर महीने होने वाली काॅमर्शियल और घरेलू बिलिंग का जानकारी मांगी है. आखिरी फैसला नियामक आयोग लेगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें