कानपुर : फिल्म निर्माता इरशाद आलम के दो फ्लैट बैंक ने अपने कब्जे में लिए

Smart News Team, Last updated: Thu, 11th Feb 2021, 12:01 PM IST
  • फिल्म ताजमहल के निर्माता इरशाद, नौशाद लेदर फिनिशर्स के मालिक भी हैं। उन्होंने फिल्म के लिए बैंक से 18 करोड़ रुपये बैंक से लोन लिए थे। फिल्म न चलने से उनकी यह रकम डूब गई थी। 18 करोड़ रुपये बकाया होने पर बैंक ऑफ इंडिया ने यह कार्रवाई की है।
सांकेतिक फोटो

कानपुर : लोन न चुका पाने के कारण बैंक ऑफ इंडिया ने ताजमहल फिल्म के निर्माता के स्वरूप नगर स्थित दो फ्लैट बुधवार को अपने कब्जे में ले लिए। कारोबार के लिए उन्होंने अलग-अलग बैंकों से 56 करोड़ रुपये लिए थे, जिसे फिल्म में लगा दिया था। सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय की भी कार्रवाई उनके खिलाफ चल रही है।

इरशाद आलम ने 2005 में ताजमहल फिल्म बनाई थी। अकबर खान ने इसे निर्देशित किया था। फिल्म में अरबाज खान, कबीर बेदी, मनीषा कोइराला ने अभिनय किया था। इस फिल्म की लागत 50 करोड़ आई थी। इरशाद नौशाद लेदर फिनिशर्स के मालिक हैं। कारोबार के लिए बैंक ऑफ इंडिया, ओरिएंटल बैंक ऑफ कामर्स, बैंक ऑफ बड़ौदा से 56 करोड़ रुपये का लोन लिया था। इसमें 18 करोड़ रुपये बैंक ऑफ इंडिया के थे। फिल्म न चलने की वजह से रकम डूब गई थी। इस मामले में इरशाद के खिलाफ सीबीआइ ने कार्रवाई की थी। प्रवर्तन निदेशालय ने छापा मारकर उन्हें गिरफ्तार भी किया था।

घोटालेबाजों ने वसूले डीजल के दाम, कागज बता रहे कबाड़ गाड़ियों में भी घुमे कमिश्नर 

इरशाद आलम के स्वरूप नगर स्थित एक अपार्टमेंट के दो फ्लैट 703 और 806 बैंक ऑफ इंडिया के पास जमानत के तौर पर बंधक थे। 2007 से उनका खाता एनपीए था। काफी समय से यह कार्रवाई टल रही थी। बुधवार को बैंक के ऋण वसूली अधिकारी प्रभात यादव टीम के साथ पहुंचे। कब्जा लेने के दौरान कोई विवाद न हो, इसके लिए पुलिस फोर्स भी साथ रही। दोनों फ्लैट पर ताला पड़ा मिला। पुलिस ने ताले तोड़ दिए। इस मौके पर बैंक के अधिकारियों में संजीव माहेश्वरी, शालिनी, बैंक अधिवक्ता शालू भाटिया भी थीं। ऋण वसूली अधिकारी ने बताया कि ताजमहल फिल्म के निर्माता इरशाद आलम के दो फ्लैटों पर कब्जा लिया गया है। पुलिस ने दोनों फ्लैट को सील कर दिया है।

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें