कानपुर: लॉकडाउन में नौकरी जाने से परेशान युवती ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

Smart News Team, Last updated: 20/09/2020 01:13 PM IST
  • कानपुर में लॉकडाउन के दौरान युवती की नौकरी छूट गई थी. परेशान होकर युवती ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. 
लॉकडाउन में नौकरी गई तो युवती ने फांसी लगाई. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

कानपुर. कानपुर में लॉकडाउन से उपजी आर्थिक स्थिति से तंग आकर एक युवती ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. बताया जा रहा है कि लॉकडाउन के दौरान युवती की नौकरी छूट गई थी, जिस कारण वह काफी परेशानी में जीने लगी थी. जब युवती ने आत्महत्या किया तब घर पर कोई नहीं था. युवती की मां कैंसर पीड़ित पिता को दिखाने वाराणसी में गई थी.

कानपुर के विजय नगर गल्लामंडी निवासी कृष्णकांत सिंह की बेटी श्रद्धा सिंह शनिवार को घर पर आत्महत्या कर ली थी. जानकारी के अनुसार श्रद्धा सिंह नामी होटल एंड हॉस्पिटैलिटी चेन कंपनी में काम करती थी. युवती के परिवार में एक छोटा भाई, पिता और माँ है. युवती के चचेरे भाई अवनीश ने बताया कि लॉकडाउन में नौकरी चले जाने से श्रद्धा काफी परेशान चल रही थी. 

कानपुर में लव जिहाद, हिंदू नाम से प्रेम जाल में फंसाया, मुख्तार नाम से की शादी

पिता कृष्णकांत सिंह पिछले कुछ सालों से कैंसर से पीड़ित हैं. 15 सितंबर के दिन युवती की मां ने पिता कृष्णकांत सिंह को वाराणसी में इलाज कराने ले गई थी. उसी दौरान श्रद्धा ने फांसी लगाकर खुद की जान दे दी. 

रात भर पड़ोसी के पास रही बेटी, बाप ने पहले उसे मारा फिर प्रेमी को काट डाला

मौके पर पहुँचे भाई ने शव को फंदे से लटका देखा तो परिजनों को सूचित किया. मामले को लेकर पुलिस ने बताया कि परिजनों ने लॉकडाउन में नौकरी छूट जाने की बात कही. हालांकि, पुलिस मामले की जांच कर रही है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें