लापरवाही! कानपुर हैलट अस्पताल में जिंदा मरीजों के परिजनों को दी मौत की जानकारी

Smart News Team, Last updated: 07/10/2020 12:11 PM IST
कानपुर के हैलट न्यूरो कोविड अस्पताल में दो कोरोना के मरीजों की मौत के डेथ ऑडि‌ट के लिए मगंलवार को प्रशासन से आई टीम ने जांच शुरू कर दी है. इसमें सामने आया कि मरीज जिंदा थे लेकिन उनके घरवालों को कहा गया कि इनकी मौत हो गई है. जांच टीम ने डाॅक्टरों और पैरा मेडिकल स्टाफ के बयान दर्ज कर लिए है.
लापरवाही! कानपुर के हैलट अस्पताल में जिंदा मरिजों के परिजनों को दी मौत की जानकारी

कानपुर. कानपुर के हैलट न्यूरो कोविड अस्पताल में दो कोरोना के मरीजों की मौत के डेथ ऑडि‌ट के लिए मगंलवार को प्रशासन से आई टीम ने जांच शुरू कर दी है. इसमें सामने आया कि मरीज जिंदा थे लेकिन उनके घरवालों को कहा गया कि इनकी मौत हो गई है. 

इसके साथ ही कोरोना मरीज कोमोरबिड नहीं रहे लेकिन मौत का कारण कोमोरबिड बता दिया गया.जांच करने आई टीम ने डाॅक्टरों और पैरा मेडिकल स्टाफ से पूछताछ कर बयान दर्ज कर लिए हैं. इसके बाद ही पता लगेगा कि किसने लापरवाही की है.

कानपुर:GSVM मेडिकल कॉलेज प्रोफेसर डाॅ शालिनी का इस्तीफा, उपचुनाव लड़ने की तैयारी

दोनों मरीजों के घरवालों ने पोर्टल और प्रशासन को न्यूरो कोविड में लापरवाही को लेकर लिखित शिकायत की थी. इस शिकायत के बाद एसजीपीजीआई से प्रो. शशि श्रीवास्तव और पल्मोनरी मेडिसन से प्रो. अजमल खान ने कानपुर के जीएसवीएम मेडिकल काॅलेज के प्राचार्य प्रो. आरबी कमल को‌ जानकारी दी गई.

UP सीएम योगी आदित्यनाथ का निर्देश, कानपुर के GSVM अस्पताल में कोविड बेड बढ़ाए

दोनों मरीजों का जिस डाॅक्टर और कर्मी ने इलाज किया था उनको भी बुलाकर उनसे बयान ले‌ लिए गए हैं. प्राचार्य प्रो. आरबी कमल ने बताया कि दो कोरोना से संक्रमित मरीज निशा और शिवकुमार के मौत में मामले में प्रशासन ने जांच-पड़ताल शुरू कर दी है. जांच के बाद मामला साफ हो जाएगा. तब तक के लिए इंतजार करना होगा. इसी के आधार पर आगे की कार्रवाई होगी. अब देखना होगा किआगे जांच में क्या-केया पता लगता है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें