कानपुर : जूही रेलवे यार्ड कंटेनर डिपो का संचालन निजी हाथों में जाएगा

Smart News Team, Last updated: 06/02/2021 02:56 PM IST
  • अभी इसका संचालन सरकारी हाथों में है, लेकिन सरकार ने पिछले साल नवंबर में ही इसमें विनिवेश के लिए अपने 54 में से 30 फीसदी शेयर बेचने का प्रस्ताव दिया था। अब जो भी कंपनी विनिवेश में इसे लेगी संचालन वही करेगी, क्योंकि उसी का शेयर सबसे ज्यादा होगा।
सांकेतिक फोटो

कानपुर : जूही रेलवे यार्ड कंटेनर डिपो का संचालन जल्द ही प्राइवेट हाथों में चला जाएगा। विनिवेश के लिए सरकार ने इसके तीस फीसदी शेयर प्राइवेट में बेचने का फैसला किया है। वर्तमान में इस यार्ड का संचालन रेलवे के उपक्रम कंटेनर कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (कॉनकोर) के हाथों में है। अभी कॉनकोर के पास 54 फीसदी शेयर हैं। बाकी के 46 फीसदी शेयर बैंक व अन्य संस्थाओं के पास है। विनिवेश के लिए सरकार 30 फीसदी शेयर देने जा रही है। इसके बाद कॉनकोर में सबसे ज्यादा शेयर उसी का होगा जो निजी कंपनी इसे लेगी। इसके लिए सरकार पिछले साल नवंबर में प्रस्ताव दिया था, लेकिन कोरोना संक्रमण और लॉकडाउन के कारण यह रुका रहा था।

कानपुर : SAF बना रही आधुनिक कार्बाइन, दो हजार का ऑर्डर मिला

गोविंदपुरी स्टेशन के पास स्थित जूही रेलवे यार्ड से हर माह 1500 कंटेनर माल का आयात-निर्यात होता है। कानपुर में तीन इनलैंड कंटेनर डिपो हैं। इन्हें ड्राई पोर्ट भी कहा जाता है। इसमें चकेरी का संचालन सेंट्रल वेयर हाउसिंग कॉरपोरेशन के हाथों में है। गोविंदपुरी पुल के नीचे स्थित जूही यार्ड का संचालन कंटेनर कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया करता है। ये दोनों सरकारी संचालन में है। वहीं पनकी डिपो का संचालन निजी हाथों में है।

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें