अवैध चट्टा हटाने के मामले में सपा विधायकों से झड़प के बाद बैठक से निकलीं मेयर

Smart News Team, Last updated: 27/09/2020 07:16 PM IST
  • सपा विधायकों से झड़प के बाद बैठक से महापौर प्रमिला पांडेय उठ कर चली गईं. विधायकों का कहना था कि चट्टे हटाने से पहले कोई सूचना क्यों नही दी गई.
सपा विधायकों से झड़प के दौरान मेयर प्रमिला पांडेय

कानपुर: जिले के चमनगंज इलाके में अवैध चट्टे हटाने और पथराव के मामले में मुलाकात के लिए गए सपा विधायकों की महापौर प्रमिला पाण्डेय से तीखी झड़प होने का मामला सामने आया है. जिसके बाद नाराज महापौर बैठक छोड़कर चली गईं.

जानकारी के मुताबिक सपा विधायक अमिताभ बाजपेई व इरफान सोलंकी चट्टे हटाए जाने के मसले पर बिना सूचना के बैठक के बीच मेयर प्रमिला पाण्डेय से मिलने पहुंच गए. विधायकों का कहना था कि चट्टा हटाने की सूचना क्यों नहीं दी गई. इस पर नगर आयुक्त अक्षय त्रिपाठी से भी बहस हो गई. नगर आयुक्त ने कहा शहर से चट्टे हटाने का अभियान कई वर्षों से चल रहा है. ऐसे में इसकी सूचना देने की जरूरत ही नहीं थी. सभी चट्टा संचालकों को इसकी जानकारी है.अभियान तो चलेगा चाहे जो हो जाए. इस पर सपा विधायकों ने कहा कि हम भी जनता के चुने हुए प्रतिनिधी हैं, सड़क पर आंदोलन करना जानते हैं.

सड़क घेरे पशुओं को हटाने गई नगर निगम की टीम पर भीड़ का हमला, मेयर की गाड़ी पर पथराव

जिसके बाद महापौर ने विधायकों से कहा कि शनिवार को चट्टा हटाने के अभियान के दौरान हमारी टीम पर हमला हुआ. अगर मुझे या किसी अधिकारी या कर्मचारी को कुछ हो जाता तो क्या होता. मुझे कोई बैठक नहीं करनी, जा रही हूं. महापौर उठकर खड़ी हुईं तो सपा विधायकों ने उन्हें मनाने की कोशिश की लेकिन वह नहीं मानीं और चली गईं. विधायकों के जाने के बाद फिर शुरू हुई बैठक. महापौर इस बात को लेकर भी नाराज थीं कि बैठक में बिना बुलाए विधायक क्यों पहुंचे. विधायकों का कहना था कि वह भी नामित सदस्य हैं. विधायकों के जाने के बाद महापौर ने शहर काजी और चट्टा संचालकों साथ फिर से बैठक शुरू की.

 

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें