कानपुर मेट्रो: अंडरग्राउंड कार्य ने नहीं पकड़ी रफ्तार तो अफसरों पर होगी कार्रवाई

Komal Sultaniya, Last updated: Sun, 6th Mar 2022, 5:33 PM IST
  • कानपुर मेट्रो के अंडरग्राउंड रूट के निर्माण की रफ्तार सुस्त होने लगी है. अंडरग्राउंड सेक्शन चुन्नीगंज से नयागंज के अंडरग्राउंड रूट पर कार्य की रफ्तार नहीं बढ़ी तो कई अधिकारियों पर कार्रवाई हो सकती है. यूपी मेट्रो रेल कार्पोरेशन के MD केशव कुमार ने अधिकारियों पर नाराजगी जताई है.
कानपुर मेट्रो: अंडरग्राउंड रूट के कार्य ने नहीं पकड़ी रफ्तार तो अफसरों पर होगी कार्रवाई

कानपुर. कानपुर मेट्रो ने IIT से मोतीझील मेट्रो स्टेशन तक रिकॉर्ड टाइम में निर्माण पूरा कर उपलब्धि हासिल की. लेकिन, अब मेट्रो के निर्माण की रफ्तार सुस्त होने लगी है. अंडरग्राउंड सेक्शन चुन्नीगंज से नयागंज के अंडरग्राउंड रूट पर कार्य की रफ्तार नहीं बढ़ी तो कई अधिकारियों पर कार्रवाई हो सकती है. यूपी मेट्रो रेल कार्पोरेशन के MD कुमार केशव ने कड़ी नाराजगी जताई है.

मेट्रो MD ने अंडरग्राउंड स्टेशन के निर्माण में सिर्फ डी-वाल का काम ही किए जाने से नाराज हैं . वे मेट्रो के दूसरे कार्यों को भी इसके साथ ही शुरू करना चाहते हैं ताकि कार्य की रफ्तार बनी रहे और समय से मेट्रो का कार्य तय समय पर पूरा किया जा सके. काम की रफ्तार तेज होने का सबसे बड़ा कारण है कि मेट्रो और अंडरग्राउंड रूट के कार्य से जुड़ी दूसरी एजेंसियों के बीच ठीक से तालमेल नहीं होना है.

कानपुर और लखनऊ मेट्रो के टिकट अब Metro App से करें बुक, 5 मार्च को होगा लॉन्च

मेट्रो MD साल 2024 तक कानपुर के दोनों मेट्रो कॉरिडोर पर मेट्रो दौड़ाना चाहते हैं. इसीलिए वे कार्य की रफ्तार तेज करना चाहते हैं, लेकिन धरातल पर जो कार्य की रफ्तार उन्होंने अपने दो दिन के दौरे पर देखी, उसे देखकर उन्होंने नाराजगी जताई है. MD ने इस कार्य से जुड़ी एजेंसियों को चेताया है कि उन्हें मेट्रो के कार्य की रफ्तार से ही अपनी रफ्तार भी बनानी होगी. इसे रुटीन कार्य की तरह न करें. काम की रफ्तार तेज न होने पर कई अधिकारियों पर कार्रवाई तय है. बताते चलें कि,  4 अंडरग्राउंड मेट्रो स्टेशन बनेंगे जिसमें चुन्नीगंज, नवीन मार्केट, बड़ा चौराहा और नयागंज स्टेशन है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें