10 नवंबर को होगा कानपुर मेट्रो रन ट्रायल, सीएम योगी भी होंगे शामिल

Indrajeet kumar, Last updated: Mon, 8th Nov 2021, 9:31 AM IST
  • कानपुर मेट्रो का ट्रायल रन 10 नवंबर को किया जाएगा. इस ट्रायल रन में सीएम योगी आदित्यनाथ भी शामिल शामिल होंगे. औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना ने मेट्रो परियोजना के कामों की प्रगति के पड़ताल के बाद संतुष्टि जताई. यूपी मेट्रो के बड़े अधिकारियों ने बाते कि ट्रायल रन की तैयारी पूरी हो चुकी है.
कानपुर मेट्रो

कानपुर. कानपुर मेट्रो का ट्रायल 10 नवंबर को किया जाएगा. इस मेट्रो ट्रायल के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी मौजूद रहेंगे. उत्तर प्रदेश के औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना ने मेट्रो परियोजना के कामों की प्रगति के पड़ताल के बाद संतुष्टि जताई. यूपी मेट्रो की आला अधिकारियों ने मंत्री से बताया कि ट्रायल रन की तैयारी पूरी हो चुकी है. ट्रेन की हर तरह से जांच पड़ताल हो चुकी है. सिग्नल से लेकर ट्रेक सभी को दुरुस्त कर दिया गया है. हालांकि इससे पहले मेट्रो रन की ट्रायल की तारीख 15 नवंबर बताया जा रहा था. लेकिन इस दिन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का वाराणसी में कार्यक्रम होना है. शायद इसलिए 10 तारीख को मेट्रो रन ट्रायल की तारीख पक्की की गई है.

 बात दें की इससे पहले भी 25 अक्टूबर को पॉलीटेक्निक परिसर में बने डिपो के टेस्ट ट्रैक पर पहली बार तीन डिब्बों वाली मेट्रो को चलाया गए था. इस दौरान मेट्रो को फूल स्पीड के साथ दौड़ाया गया था साथ ही सिग्नल और टेलीकम्युनिकेशन की गुणवत्ता परखी गई. मेट्रो जब 80 की स्पीड में दौड़ रही थी तो अफसरों के चेहरे पर खुशी दौड़ गई थी. मेट्रो के अफसरों ने जानकारी देते हुए बताया की डिपो के टेस्ट ट्रैक पर ट्रायल सफल रहा है. डिपो टेस्ट ट्रैक की लंबाई करीबन 650 मीटर है. नए साल पर कानपुरवासियों को मेट्रो से सफर का तोहफा मिल जाएगा. स्टेशनों की बात करें तो आईआईटी गेट से मोतीझील तक नौ स्टेशन हैं. वहीं चुन्नीगंज से नयागंज तक भूमिगत (अंडर ग्राउंड) मेट्रो ट्रैक बिछाने का काम चल रहा है.

ट्विटर पर PM मोदी, CM योगी को बम से उड़ाने की धमकी के बाद हड़कंप, जांच शुरू

इंडियन टेक्नोलॉजी से तैयार एक्सिलेटर स्टेशनों पर लगेंगी

कानपुर मेट्रो के पहले कॉरिडोर के स्टेशनों पर लगने वाली एक्सिलेटर स्वदेशी तकनीक पर आधारित हैं. इस लिहाज से कानपुर मेट्रो मेक इन इंडिया का एक मिसाल बनेगी. इसके अलावा भी कई और चीजें कानपुर मेट्रो में मेक इन इंडिया का उदाहरण पेश करेंगी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें