कानपुर मेट्रो देगा डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा, कैश और टोकन सिस्टम नहीं होगा

Smart News Team, Last updated: Mon, 18th Jan 2021, 12:34 PM IST
  • कानपुर मेट्रो में स्मार्ट कार्ड, फोन पे, गूगल पे, पेटीएम या फिर किसी भी बैंक की एप्लिकेशन होना जरूरी है तभी आप मेट्रो में प्रवेश कर सकेंगे. इसमें टोकन सिस्टम को लागू नहीं किया जाएगा. इस योजना के जरिए डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने के लिए यह कदम उठाने का निर्णय लिया है.
कानपुर मेट्रो में नहीं होगा टोकन सिस्टम.

कानपुर. उत्तर प्रदेश के कानपुर शहर में शुरू वाली मेट्रो का टोकन सिस्टम दिल्ली और लखनऊ के सिस्टम से अलग होगा. इसमें सफर करने के लिए यात्री को सिर्फ डिजिटल भुगतान करना पड़ेगा. इसमें टोकन सिस्टम को लागू नहीं किया जाएगा. डिजिटल भुगतान में मेट्रो का स्मार्ट कार्ड और क्यूआर कोड से स्कैन कर के टिकट खरीदे जा सकेंगे.

कानपुर मेट्रो की परियोजना को पूरी तरह से डिजिटल बेस्ड बनाने की तैयारी चल रही है, इसलिए यहां टोकन सिस्टम लागू नहीं किया जाएगा. मेट्रो में सफर करने के लिए आपके पास स्मार्ट कार्ड, फोन पे, गूगल पे, पेटीएम या फिर किसी भी बैंक की एप्लिकेशन होना ज़रूरी है तभी आप मेट्रो में प्रवेश कर सकेंगे.  

GD गोयनका टी-20 मास्टर कप: सोमवार को ऑक्शन, 152 खिलाड़ियों पर बोली

अगर आपके पास इन सब चीजों में से कुछ नहीं होगा तो आपको मेट्रो स्टेशन पर परेशानी हो सकती है. उत्तर प्रदेश के मेट्रो रेल कॉरपोरेशन ने इस परियोजना के ज़रिए डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने के लिए यह कदम उठाने का निर्णय लिया है. 

कानपुर: बिकरू गांव को सीसीटीवी कैमरे से किया जाएगा लेस, 24 घंटे होगी निगरानी

यूपीएमआरसी के अधिकारियों ने बताया कि मेट्रो में सफर करने के लिए खरीदे जाने वाले इक्ट्रोनिक टोकन पर 200 रुपए तक खर्च हो जाते थे. इस वक्त जब दुनिया डिजिटल फ्रेंडली हो गई है तो ज़रूरी है कि सस्ते सफर के लिए इस टोकन के खर्च से किनारा कर लिया जाए. 

पत्नी ने घर जाने से किया मना तो पति ने ससुरालीजनों समेत जलाया, भेजा जेल

मेट्रो से सफर करने के लिए सभी यात्रियों को डिजिटल पेमेंट का ही इस्तेमाल करना होगा. सभी मेट्रो स्टेशनों पर स्मार्ट कार्ड बनवाने की सुविधा उपलबध रहेगी ताकि यात्री को कोई परेशानी का सामना न करना पड़े.वहीं, एक सर्वे की रिपोर्ट में अनुसार अब ज़्यादातर लोग डिजिटल लेन- देन का ही इस्तेमाल करते हैं. 

जिला पंचायत से नक्शा पास कराना हुआ 25 फीसदी मंहगा, 47.22 करोड़ का बजट मंजूर 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें