कानपुर में बन रहे हैं पुणे मेट्रो के बोगी फ्रेम्स, इटली में होगा परीक्षण

Smart News Team, Last updated: Sun, 7th Feb 2021, 10:25 AM IST
  • पनकी स्थित एक कंपनी को मिले 204 बोगी फ्रेम्स के ऑर्डर, इसी माह होगा यहां बनाए गए बोगी फ्रेम्स का परीक्षण। इसके लिए इसे माइनस 40 डिग्री पर दबाव डालकर तोड़ा जाएगा। ताकि मालूम हो सके कि ये कितना दबाव बर्दाश्त कर सकता है। हालांकि भारत में अभी यह मानक माइनस 20 डिग्री पर था।
मेट्रो बोगी फ्रेम्स

कानपुर : पुणे की मेट्रो के बोगी फ्रेम कानपुर में बन रहे हैं। हालांकि इनको अभी कड़े परीक्षण से गुजारा जाना है। अप्रूवल मिलने के बाद ही यह बोगी फ्रेम्स मेट्रो में इस्तेमाल होंगे। अगर अप्रूवल मिला तो पुणे मेट्रो देश की सबसे हल्की मेट्रो होगी। क्योंकि यह मेट्रो एल्युमिनियम बेस है। इसके लिए इसके बोगी फ्रेम्स को भी हल्का किया गया है।

जूही में बनेगा न्यू कानपुर स्टेशन, कम होगा सेंट्रल स्टेशन का लोड

कानपुर के पनकी इंडस्ट्रियल एरिया स्थित कंपनी को 34 मेट्रो के लिए 204 बोगी फ्रेम सप्लाई करने हैं। कंपनी को इसी माह परीक्षण के लिए सात बोगी फ्रेम इटली भेजने हैं। बता दें कि ट्रेन के चलते समय होने वाला कंपन बोगी फ्रेम पर ही निर्भर करता है। तेजस में कंपनी अपनी विशेषज्ञता दिखा चुकी है। इसके चलते ही कंपनी को पुणे की मेट्रो का भी ऑर्डर मिला है। हालांकि इस बार के परीक्षण और भी कड़े हैं। पुणे की मेट्रो का कार्य देख रही टीटागढ़ फिरेमा कंपनी भारतीय है, जिसने इटली की कंपनी का अधिग्रहण किया है। कंपनी बोगी फ्रेम का परीक्षण अपने इटली के प्लांट में करेगी। इसके लिए इसी माह तीन बोगी के हिसाब से छह बोगी फ्रेम और एक अलग से बोगी फ्रेम भेजा जाना है। एक अतिरिक्त बोगी फ्रेम को माइनस 40 डिग्री सेल्सियस तापमान पर दबाव डालकर तोड़ा जाएगा और परीक्षण किया जाएगा कि वह कितना दबाव बर्दाश्त कर सकता है। भारत में यह मानक माइनस 20 डिग्री सेल्सियस है।

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें