कानपुर: बच्चों की ऑनलाइन पढ़ाई और फीस माफी के लिए अभिभावकों का कैंडल मार्च

Smart News Team, Last updated: 20/09/2020 10:09 PM IST
कानपुर में अभिभावकों ने ऑनलाइन पढ़ाई और फीस माफी सहित अनेक मांगों को लेकर गोरा कब्रिस्तान से कैंडल मार्च निकाला. इस दौरान उनकी पुलिस से झड़प भी हुई. पुलिस ने उन्हें बीच में सरसैय्या घाट चौराहे पर रोक कर डीएम आवास नहीं जाने दिया.
कैंडल मार्च निकालते अभिभावक

 कानपुर. कानपुर में रविवार को अभिभावकों ने बच्चों पर ऑनलाइन पढ़ाई का दबाव कम करने और फीस माफी की मांग को लेकर कैंडल मार्च निकाला. यह मार्च गोरा कब्रिस्तान सिविल लाइन से निकाला गया. अभिभावक जिला कलेक्टर आवास पर जाकर मांग पत्र देना चाहते थे लेकिन पुलिस ने उन्हें सरसैय्या घाट चौराहे पर रोक दिया. इस दौरान अभिभावकों और पुलिस के बीच झड़प भी हुई. अभिभावकों ने किसी और को मांग पत्र देने से इंकार कर दिया.

जानकारी के अनुसार सभी अभिभावक सिविल लाइन के गोरा कब्रिस्तान में इकट्ठे हुए. इसके बाद उन्होंने हाथों में मोमबती लेकर मार्च निकाला. उनके हाथों में तख्तियां भी थीं जिन पर भी मांगे लिखी हुई थीं. अभिभावक इस शैक्षणिक वर्ष ज़ीरो सत्र घोषित करने, अप्रैल से जून तक की फीस पूरी तरह माफ करने और शेष फीस ऑनलाइन फीस मुक्त विश्वविद्यालय की तर्ज पर लेने की मांग की गई थी. इसके अलावा 20 हज़ार से अधिक फीस लेने पर सभी विद्यार्थियों की बैलेंस शीट ऑडिट कराई जाए. अभिभावकों के हाथों में तिरंगा भी था. गौरतलब है कि जिले के अभिभावकों के साथ उन्नाव से भी लोग भी इस कैंडल मार्च में शामिल हुए. इस दौरान उन्नाव में आत्महत्या करने वाले छात्र को श्रद्धांजलि दी गई.

क्लोन ट्रेन का टाइम टेबल देखकर चकरा गया लोगों को सिर, सवा घंटे का सफर 6 घंटे में

अभिभावकों को रोकती कानपुर पुलिस

कानपुर: CSJMU एंट्रेंस एग्जाम का रिजल्ट जारी, 21 से ऑनलाइन काउंसिलिंग

अखिल भारतीय पीड़ित अभिभावक महासंघ के अध्यक्ष राकेश मिश्रा के नेतृत्व में सभी अभिभावक जिलाधिकारी को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन देना चाहते थे. लेकिन पुलिस ने उन्हें डीएम आवास नहीं जाने दिया. पुलिस ने अभिभावकों को गोरा कब्रिस्तान के पास ही रोकने की कोशिश की थी लेकिन अभिभावक सरसैय्या घाट चौराहे तक जाने में सफल रहे. इसके बाद पुलिस द्वारा घेराबंदी कर अभिभावकों को आगे नहीं जाने दिया गया.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें