कानपुर:कोरोना से जंग जीतने में प्लाज्मा थेरेपी से मिला फायदा, 15 मरीज़ हुए ठीक

Smart News Team, Last updated: 18/08/2020 09:54 AM IST
  • यूपी के कानपुर में लगातार बढ़ते कोरोना वायरस को हराने के लिए अब प्लाज्मा थेरेपी मील का पत्थर साबित हो रहा है.अब तक 15 कोरोना मरीजों को प्लाज्मा चढ़ाया जा चुका है. जो पूरी तरह से स्वस्थ हो चुके हैं. अब ब्लड बैंक में डोनर्स के लिए 24 घंटे स्टॉफ तैनात किए गए हैं.
प्लाज्मा थेरेपी

यूपी के कानपुर में कोरोना के बढ़ते कहर के बीच अब प्लाज्मा थेरेपी कारगर साबित हो रहा है. प्लाज्मा थेरेपी से ठीक होकर सोमवार को हैलट के न्यूरो कोविड हॉस्पिटल से एक कोरोना मरीज ठीक होकर घर लौट गया. अब तक 15 मरीजों को प्लाज्मा थेरेपी का खासा फायदा हुआ है. अधिकतर रोगियों को डॉक्टर्स ने खतरे से बाहर बताया है.

जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज ट्रांसफ्यूजन मेडिसिन हेड डॉ. लुबना खान ने जानकारी देते हुए बताया कि कोरोना रोगियों को प्लाज्मा थेरेपी का फायदा मिल रहा है. थेरेपी के बाद अब तक दो मरीज डिस्चार्ज हो चुके हैं. अभी 15 कोरोना मरीजों को प्लाज्मा चढ़ाया गया है जिन्हें डॉक्टरों ने फायदा होना बताया है. लेकिन इसके साफ परिणाम आने में अभी कुछ और समय लगेगा.

हालांकि चिंता की बात तो यह है कि प्लाज्मा थेरेपी के बाद भी पांच कोरोना रोगियों की मौत हो चुकी है.

इस बीच आज भी कोरोना से ठीक हो चुके मरीज ने हैलट ब्लड बैंक में प्लाज्मा डोनेट किया. अब तो ब्लड बैंक में प्लाज्मा डोनेशन के लिए 24 घंटे कर्मचारियों की ड्यूटी भी लगा दी गई है. जिसके बाद लैब टेक्नीशियन उमेश चन्द्र, विनोद कमल, जिशान वारिश और विवेक दीक्षित लगातार ब्लड बैंक में ड्यूटी पर कोरोना योद्धा के रूप में मुस्तैद हैं.

डॉ.खान ने बताया कि प्लाज्मा डोनेट की अपील के चलते लोगों का अपनी मर्जी से प्लाज्मा डोनेट करने का सिलसिला जारी है और भी कई डोनेटर्स लगातार सम्पर्क कर रहे हैं. इसलिए लोगों से अपील है कि जो मरीज डिस्चार्ज होने के बाद 14 दिन का समय पूरा कर चुके हैं वे हैलट ब्लड बैंक में प्लाज्मा डोनेट कर सकते हैं. चाहे तो वे लोग उनके मोबाइल नंबर 8400331179 पर सम्पर्क कर सकते हैं.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें