कानपुर: कोरोना काल में चल रहा था हुक्का बार, FDA का छापा, लाइसेंस होगा रद्द

Smart News Team, Last updated: 07/09/2020 09:14 PM IST
  • कोरोना काल में हुक्का बार पर रोक के बाद कई रेस्टोरेंट पर एफडीए के अधिकारियों ने छापा मारा. आर्य नगर स्थित नवाब रेस्टोरेंट में हुक्का बार चलाया जा रहा था जिसके बाद अब रेस्टोरेंट के लाइलेंस निलंबन की कार्रवाई की जाएगी.
रेस्टोरेंट में छापेमारी करते एफडीए अधिकारी.

कानपुर:  शहर के स्वरूप नगर स्थित नवाब रेस्टोरेंट में हुक्का बार चलने का मामला सामने आया है. रेस्टोरेंट में बैठे कई युवक हुक्का का लुत्फ उठा रहे थे. तभी अचानक एफडीए की टीम ने छापा मारा तो हुक्का बार में मौजूद लोगों मेंं खलबली मच गई. मौका पाकर लड़के इधर-उधर भाग निकले. एफडीए की टीम ने पांच हुक्का जब्त करने के साथ 1200 रुपए का जुर्माना लगाया और रेस्टोरेंट का लाइसेंस निलंबित करने के लिए भी कार्रवाई शुरू कर दी है.

जानकारी के मुताबिक इलाहाबाद हाईकोर्ट के आदेश के बाद सोमवार को एफडीए की टीम ने शहर में कई रेस्टोरेंट पर छापा मारा. टीम ने सबसे पहले स्वरूप नगर स्थित द मिलेनियर सुइट्स पर पहुंची . वहां सब कुछ ठीक मिला. अधिकारियों ने संचालक को नोटिस जारी कर हुक्का न चलाने की चेतावनी दी. इसके बाद टीम ने आर्य नगर स्थित नवाब रेस्टोरेंट में छापा मारा. जहां हुक्काबार चलता मिला. आपको बता दें कि कोरोना संक्रमण काल में हाईकोर्ट ने किसी भी तरह के हुक्काबार संचालन पर पूरी तरह रोक लगाने का निर्देश दिया है. हुक्का के कारण कोरोना संक्रमण तेजी से फैलने का अंदेशा है. 

कानपुर कोर्ट में पांच कर्मचारी मिले कोरोना संक्रमित, मंगलवार को कचहरी बंद

एफडीए के अधिकारी संजय कुमार सिंह ने बताया कि नवाब रेस्टोरेंट से पांच हुक्का मिले, जिसे जब्त कर लिया गया. साथ ही, रिफाइंड, मिर्च, हल्दी व पनीर का नमूना भी लिया गया है, जिसे जांच के लिए लैब भेजा जाएगा. रेस्टोरेंट संचालक के खिलाफ नियमानुसार 1200 रुपए का जुर्माना लगाया गया है. साथ ही, रेस्टोरेंट लाइसेंस निलंबन की भी कार्रवाई की जाएगी. इस दौरान एसीएम-पांच व सीओ भी मौजूद रहे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें