कानपुर के बिकरू और भीटी गांव में नए प्रधान, विकास दुबे के करीबियों की हुई छुट्टी

Smart News Team, Last updated: 16/09/2020 10:39 PM IST
कानपुर के बिकरू और भीटी गांव में विकास दुबे समर्थित प्रधानों को हटाकर नए प्रधानों को जिम्मेदारी दे दी गई है. बिकरू गांव में ही बीते जुलाई विकास दुबे ने पुलिसकर्मियों पर हमला किया था. जिसके बाद विकास दुबे मुठभेड़ में मारा गया था.
कानपुर के बिकरू और भीटी गांव में नए प्रधानों को जिम्मेदारी दे दी गई है

कानपुर. कानपुर के बिकरू और भीटी गांव में नए प्रधानों को जिम्मेदारी दे दी गई है. बिकरू हत्याकांड के बाद इन दोनों गांव से पंचायती राज विभाग का संपर्क नहीं हो पा रहा था. इन गांवों में विकास दोबारा शुरू हो इसके लिए नए प्रधान नामित कर दिए गए हैं.

कानपुर के शिवराजपुर विकास खंड के बिकरू और भाटी ग्राम पंचायत मिश्रित आबादी में बसे हैं. बिकरू में पहले विकास दुबे के भाई दीपू दुबे की पत्नी अंजली दुबे ग्राम प्रधान थीं और भीटी गांव से जिलेदार सिंह ग्राम प्रधान थे. अब इन दोनों को हटाकर दोनों गांव में नए प्रधानों को जिम्मेदारी दे दी गई है. जिला पंचायत राज अधिकारी कमल किशोर ने बताया कि बिकरू में विकास दुबे के छोटे भाई दीप प्रकाश की पत्नी अंजली दुबे को हटाकर राम श्री को प्रधान बनाया गया है और भीटी में विकास दुबे के खास विष्णुपाल सिंह उर्फ जिलेदार को हटाकर राधेश्याम को प्रधान के अधिकार सौंप दिए हैं.

ED का खुलासा! पुलिसवालों के हॉस्पिटल और स्कूल में लगे विकास के गुर्गे जय के पैसे

आपको बता दें कि बिकरू वही गांव है जहां 3 जुलाई 2020 को गश्त करने गई पुलिसकर्मियों को विकास दुबे ने हमला कर दिया था. जिसमें 8 पुलिसकर्मियों की जान चली गई थी. बाद में 10 जुलाई को विकास दुबे पुलिस से मुठभेड़ में मारा गया था. पुलिस को बाद में पता चला था कि विकास दुबे ने बिकरू और भीटी गांव पर दबदबा बनाकर रखा था. उसकी अनुमति के बिना यहां कोई काम नहीं होता था. नए प्रधानों के बाद अब बिकरू और भीटी में विकास सही दिशा में होगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें