इटावा और कानपुर-हमीरपुर हाईवे को जोड़ने के लिए 54 करोड़ की लागत से बनेगा टू लेन बाईपास

Uttam Kumar, Last updated: Sat, 27th Nov 2021, 1:01 PM IST
  •  इटावा और कानपुर-हमीरपुर हाईवे को जोड़ने के लिए 54 करोड़ की लागत से रमईपुर बाजार से भीमसेन स्टेशन तक बनेगा टू लेन बाईपास बनाया जाएगा. चुकी इस हाईवे को उद्योग विभाग की सहायता से तैयार की जा रहा है, इसलिए निर्माण में आने वाला आधा खर्च यानी 27 करोड़ भी उद्योग विभाग की तरफ से दिया जाएगा.
प्रतीकात्मक फोटो

कानपुर. कानपुरवासियों को जल्द ही एक नए हाईवे का तोहफा मिल सकता है. कानपुर- हमीरपुर हाईवे को सचेंडी के पास कानपुर-इटावा हाईवे से जोडऩे की तैयारी चल रही है. इस मार्ग के बन जाने से हमीरपुर हाईवे और कानपुर-इटावा हाईवे के बाईपास के रूप में यह दूसरा मार्ग मिल जाएगा. फिलहाल शुरुआत में कानपुर- हमीरपुर हाईवे के रमईपुर बाजार से भीमसेन स्टेशन तक एक टू लेन(two lane) बाईपास बनाया जाएगा. इससे पहले सचेंडी से बिधनू के पास आने वाली नहर पर टू लेन सड़क बनी हुई है. 

दरअसल उद्योग विभाग के सहयोग से रमईपुर में करीब सौ हेक्टेयर में मेगा लेदर क्लस्टर प्रोजेक्ट की स्थापन की तैयारी चल रही है. तो यहां तैयार होने वाले प्रोडक्ट और बनने के लिए यहां कच्चा माल लाने और लोगों को आवागमन को सुगम बनाने के लिए ही रमईपुर से भीमसेन स्टेशन तक टू लेन सड़क बनाई जाएगी. दूसरे चरण में इसका चौड़ीकरण किया जाएगा. मेगा लेदर क्लस्टर के निर्माण के लिए भूमि आवंटन की प्रक्रिया भी जल्द ही पूरी होने वाली है. 

कानपुर टेस्ट में गुटखा खा रहे शख्स ने किया कमाल,स्टेडियम पहुंचकर कर दिया ये काम

चुकी इस हाईवे को उद्यम विभाग की सहायता से तैयार की जा रहा है इस लिए इसके निर्माण में लगने वाले लागत का भी आधा खर्च विभाग उठाएगा. लघु सूक्ष्म एवं मध्यम उद्यम विभाग के अपर मुख्य सचिव नवनीत सहगल ने इसके निर्माण के लिए सहमति दे दी है. उद्योग विभाग की मंजूरी मिलते ही वित्त विभाग की ओर से भी बजट स्वीकृत हो जाएगा. इसके निर्माण में कुल 54 करोड़ रुपये लागत आएगी. जिसमें 27 करोड़ रुपये का बजट उद्योग विभाग की तरफ से दिया जाएगा. इसके निर्माण के लिए पीडब्ल्यूडी अगले महीने यानी दिसंबर में टेंडर जारी कर सकता है. जबकि भीमसेन से सचेंडी तक की सड़क दूसरे चरण में चौड़ी की जाएगी. 

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें