कानपुर का यह मंदिर हर साल बताता है कैसा होगा मानसून, इस साल बारिश होगी कम!

Smart News Team, Last updated: Sun, 30th May 2021, 11:25 AM IST
  • कानपुर के एक मंदिर हर साल बताता है कि मानसून कैसा रहेगा. पुजारी मंदिर में घटित होने वाले अनोखे दृश्यों से बताते हैं कि बारिश ज्यादा होगी या कम. वैज्ञानिकों को आज तक राज नहीं पता चल पाया है.
कानपुर का अनोखा मंदिर जहां पता लगता है हर साल बारिश ज्यादा होगी या कम.

कानपुर. उत्तर प्रदेश के कानपुर का जगन्नाथ मंदिर हर साल मानसून की जानकारी देता है. वैसे तो  मानसून कैसा रहेगा इसका आंकलन मौसम विभाग वैज्ञानिक मापदंड के आधार पर करता है, लेकिन यूपी के इस मंदिर में मानसून आने से पहले एक अनोखा दृश्य देखने को मिलता है जिससे यहां के पुजारी बताते हैं कि बारिश कितनी होगी.

कानपुर के भीतरगांव ब्लॉक के बेहटा बुजुर्ग गांव में स्थित इस मंदिर में मानसून से 15-20 दिन पहले गुंबद में जड़े पत्थरों से पानी टपकने लगता है जिससे पुजारी भविष्यवाणी करते हैं. पानी की बूंद के साइज को देखकर बताया जाता है कि बारिश ज्यादा होगी या कम होगी. वहीं इस साल के लिए भविष्यवाणी की गई है कि मानसून कमजोर रहेगा. ऐसा ही वैज्ञानिकों का कहना है क्योंकि दो चक्रवातों के कारण मानसून कमजोर पड़ गया है. 

UP के 22 साल के युवक का कांड सुनकर रह जाएंगे हैरान, भैंस के साथ किया ये गंदा काम

मिली जानकारी के अनुसार मंदिर पुरातत्व विभाग के संरक्षण में है. इस मंदिर के पुजारी केपी शुक्ला की कई पीढ़ियां इस मंदिर की सेवा में लगी हुई हैं. उनका कहना है कि मंदिर के गुंबद से दो दिनों से पानी टपक रहा है और ये बूंदे छोटी हैं. जिससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि बारिश कम होगी.

वहीं मंदिर की इस मान्यता की जांच करने के लिए देश-विदेश के वैज्ञानिकों की टीम यहां जांच कर चुकी है लेकिन बूंदों के टपकने का रहस्य अभी भी अनसुलझा ही है. वैज्ञानिकों ने अपनी जांच में पाया कि रहस्य तक पहुंचने के लिए गुबंद में जड़े पत्थरों की गहन जांच करना आवश्यक है. 

RBI की रिपोर्ट से खुलासा, बाजार में 100 नहीं 200-500 के नकली नोट ज्यादा  

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें