कानपुर: बिकरू कांड से जुड़े वायरल ऑडियो में बड़ा खुलासा, एसओ ने की थी इनसे बात

Smart News Team, Last updated: Sun, 16th Aug 2020, 8:50 PM IST
  • कानपुर में हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे हत्याकांड से जुड़ा एक नया ऑडियो वायरल हो रहा है. यह ऑडियो शिकायतकर्ता राहुत तिवारी और पूर्व एसओ विनय तिवारी के बीच बातचीत की है.
विकास दुबे के गांव में नहीं फहराया गया तिरंगा

कानपुर. विकास दुबे के बिकरु कांड को लेकर एक ऑडियो वायरल हो रही है. ऑडियो पूर्व एसओ विनय तिवारी और राहुल तिवारी के बीच की है. राहुल तिवारी इस मामले का शिकायतकर्ता है. ऑडियो में सामने आया है कि पुलिस ऑफिसर विनय तिवारी खुद राहुल तिवारी की मदद करना चाहता था. वह हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे के आतंक से परेशान था.

ये भी पढ़ें- जयपुर में अभिभावक उतरे सड़कों पर, कहा-बंद हो ऑनलाइन क्लास और स्कूलों की मनमानी

गौरतलब है कि राहुल तिवारी ने ही गैंग्सटर विकास दुबे के खिलाफ पुलिस थाने में मुकदमा दर्ज कराया था और उसी के मुकदमे पर कानपुर पुलिस बिकरू गांव में दबिश मारने गई थी.

ये भी पढें- कानपुर: एक SHO लाइन हाजिर, 2 ट्रांसफर, 33 चौकी प्रभारियों के तबादले, लिस्ट

मालूम हो कि बिकरु गांव में दबिश के दौरान पुलिस और अपराधियों के बीच हुए मुठभेड़ में आठ पुलिस कर्मी शहीद हुए थे . जिसके बाद घटना का आरोपी और हीस्ट्रीशीटर विकास दूबे अपने साथियों के साथ मौके से फारार हो गया था.

कानपुर: अंडर-15 से अंतरराष्ट्रीय स्तर तक कानपुर के बेहद करीब रहे सुरेश रैना

विकास को कुछ दिनों बाद मध्य प्रदेश के उज्जैन के महाकाल मंदिर में देखा गया है जिसके बाद उसे वहाँ से मध्य प्रदेश पुलिस गिरफ्तार कर लिया और उत्तर प्रदेश पुलिस के हवाले कर दिया . जिसके बाद विकास दूबे को कानपुर लाया जा रहा था . पुलिस के अनुसार जैसे ही गाड़ी कानपुर की सीमा के अंदर पहुंची विकास ने पुलिस से बंदूक छीनकर भागने की कोशिश की जिसके बाद उसका आत्मरक्षा में पुलिस ने उसका एंकाउंटर कर दिया.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें