कानपुर: विकास दुबे से जुड़े केबल ऑपरेटर हत्याकांड की फाइल गायब, हड़कंप

Smart News Team, Last updated: 19/08/2020 05:53 PM IST
यूपी पुलिस के एनकाउंटर में मारे गए कुख्यात विकास दुबे से जुड़ी केबल ऑपरेटर हत्याकांड की फाइल गायब होने के बाद पुसिस विभाग में हलचल मच गई है. विकास दुबे इस केस में कोर्ट से बरी हो गया था.
विकास दुबे से जुड़े केबिल ऑपरेटर हत्याकांड की फाइल गायब, हड़कंप

कानपुर. उत्तर प्रदेश पुलिस से मुठभेड़ में मारे गए गैंग्सटर विकास दुबे से जुड़ी केबल ऑपरेटर मर्डर केस की फाइल अभियोजन कक्ष से गायब हो गई है. विभाग में इस खबर के बाद हड़कंप मचा है. दरअसल इस मामल की एसआईटी और न्यायिक जांच आयोग ने रिपोर्ट मांगी है लेकिन केस की फाइल का कुछ पता नहीं है. 

केबल ऑपरेटर मर्डरकेस में कुख्यात विकास दुबे आरोपी था लेकिन पुख्ता सबूत ना होने की वजह से अदालत से बरी हो गया था. अब केबल ऑपरेटर मामले की जांच करने वाली टीमें अब जानकारी करना चाहती हैं कि आखिर ऐसा कैसे हुआ था.

कानपुर पुलिस के ऑपरेशन चोर में 7 गिरफ्तार, 45 मोबाइल और 2 लैपटॉप बरामद

मालूम हो कि यह मामला साल 2004 में हुआ था जब बर्रा निवासी केबिल ऑपरेटर दिनेश दुबे की हत्या कर दी गई थी. इस मामले में विकास दुबे समेत 4 लोगों का नाम सामने आया था. इन चारों आरोपियों में कोर्ट ने दो सगे भाइयों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी जबकि विकास दुबे इस केस से बरी हो गया था.

कानपुर: विकास दुबे के तीन गुर्गों के खिलाफ 25-25 हजार का ईनाम घोषित

दरअसल कानपुर के बिकरू कांड के बाद बाद उत्तर प्रदेश पुलिस ने कुख्यात विकास दुबे के सभी केस दोबारा खोलने और उनमें फिर से जांच करने का फैसला किया है. इसी वजह से न्यायिक जांच आयोग और एसआईटी ने केबिल ऑपरेटर हत्याकांड की फाइल तलब की थी.

बर्रा इंस्पेक्टर हरप्रीत सिंह ने इस संबंध में कहा कि इस केस की फाइल अभियोजन कक्ष से गायब हो गई है. फाइल को लेकर थाने में भी कोई जानकारी नहीं हो पाई है. फाइल ना मिलने पर वरिष्ठ अधिकारियों को इसकी सूचना दे दी गई है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें