कानपुर: महिला दरोगा के खाते से निकाले 10 लाख, फिर रेप और गला दबाया, ऐसे बची जान

Smart News Team, Last updated: Mon, 16th Aug 2021, 11:22 AM IST
  • उत्तर प्रदेश में एक महिला दरोगा के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया है. इस मामले के सामने आते ही पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया है. महिला दरोगा की शिकायत के आधार पर पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है.
कानपुर की रहने वाली महिला दारोगा के साथ दुष्कर्म फोटो क्रेडिट (फाइल फोटो)

कानपुर. उत्तर प्रदेश सरकार में अपराधियों के हौंसले इतने बुलंद है कि वह आम जनता के साथ पुलिस को भी अपना शिकार बना रहे हैं. प्रदेश के कानपुर से एक ऐसा मामला सामने आया जिस सुनकर पुलिस विभाग में सनसनी मच गई है. योगी सरकार में महिला दरोगा के साथ दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है इसके साथ महिला दरोगा का जान से मारने की भी कोशिश की गई है. वहीं इस महिला दरोगा के खाते से पैसे भी निकाले गए हैं. इस पूरे मामले को लेकर महिला दरोगा ने कोतवाली पुलिस में तहरीर दी है. महिला की तहरीर के आधार पर पुलिस ने कानपुर के रहने वाले आरोपित के खिलाफ दुष्कर्म सहित कई धाराओं में कस दर्ज किया और इस पूरे मामले की जांच शुरू कर दी है.

दरअसल यह पूरा मामला महराजगंज जिले में तैनात कानपुर की रहने वाली महिला दारोगा का है. इस घटना को लेकर महिला दरोगा ने पुलिस को बताया कि कानपुर नगर के रहने वाला प्रद्युम्न यादव ने उसके खाते से जालसाजी करके कई लाखों रुपये निकाल लिए हैं. जब इस मामले में उसने आरोपी से संपर्क किया तो वह 21 जून को महराजगंज आया. यहां पर जब महिला दरोगा ने उससे पूछताछ की तो आरोपी ने दुष्कर्म की कोशिश की.

कानपुर में खुली भ्रष्टाचार की पोल, पाइप लाइन फटने से सड़क बनी तलाब

जब महिला दरोगा ने शोर मचाया तो उसने गला दबाकर जान से मारने की कोशिश की. इस शोर को सुनकर पोड़ोसी जुट गए जिसके बाद उसने जान से मारने की धमकी भी दी. इस पूरे मामले को लेकर महिला दरोगा की तहरीर के आधार पर आरोपी प्रद्युम्न के खिलाफ कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक मनीष सिंह ने धारा 417, 420, 354 (क), 376, 511, 307 आईपीसी समेत कई धाराओं में केस दर्ज कर लिया है.
 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें