सात साल की बच्ची रोती रही- पापा को मत पीटो, पुलिस ने बचाई बजरंग दल से जान

Smart News Team, Last updated: Thu, 12th Aug 2021, 10:14 PM IST
  • कानपुर में एक युवक को बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने जमकर पीटा. इसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था जिसके बाद पुलिस ने 15 लोगों पर केस भी दर्ज किया है. वीडियो में कई लोग एक युवक को पीट रहे थे और पास एक सात साल की बच्ची रोते-बिलखते कह रही थी कि उसके पापा को मत पीटो. पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मामले को काबू में किया था.
कानपुर में बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने युवक को पीटा.

कानपुर. कानपुर के बर्रा में बजरंग दल कार्यकर्ताओं के हाथों पिट रहे एक युवक का वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने 15 लोगों पर केस दर्ज कर लिया है. वायरल वीडियो में पिटाई के बीच युवक से लिपटी सात साल की बेटी रोते-बिलखते नहीं पीटने और छोड़ देने की गुहार लगा रही है लेकिन उसका कोई असर नहीं हुआ. आखिरकार जब पुलिस पहुंची तो युवक की जान बची. बजरंग दल के कार्यकर्ता पुलिस हिरासत में भी युवक पर हाथ चलाते रहे और बच्ची रोती रही.

बताया जा रहा है कि बर्रा में एक लड़की से छेड़छाड़ और धर्मांतरण का दबाव बनाने के आरोप में तीन भाइयों पर केस दर्ज किया गया था. आरोप है कि आरोपी परिवार शिकायत करने वाले परिवार को लगातार धमका रहा था. इसी मामले में पुलिस कार्रवाई की मांग को लेकर बजरंग दल के कार्यकर्ताओं और विधायक महेश त्रिवेदी के बेटे शुभम ने बुधवार को रामगोपाल चौराहे पर प्रदर्शन और नारेबाजी की. कार्यकर्ताओं ने रोकने के बाद भी प्रदर्शन किया और आरोपियों के घर से एक युवक अफसार अहमद को पकड़ लाए और उसकी पिटाई कर दी. पुलिस ने किसी तरह युवक को छुड़ाकर थाना लाया लेकिन बाद में पुलिस ने उसे रिहा कर दिया क्योंकि उसके खिलाफ कोई आरोप नहीं था. 

UP में बनेगी भगवान परशुराम की 25 फीट की प्रतिमा, दो करोड़ ब्राह्मणों को जोड़ेगा कानपुर का ये मंदिर

बर्रा आठ रामगोपाल चौराहे इलाके में रात में पीएसी तैनात कर दी गई. गुरुवार को बस्ती के लोगों में दहशत दिखी. ज्यादातर दुकानें बंद रहीं. सुरक्षा के लिहाज से हर 50 मीटर पर पीएसी जवान तैनात थे. पुलिस ने अब तक किसी की गिरफ्तारी नहीं की है. मारपीट और बच्ची के पिता से लिपटकर बिलखने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने पर पुलिस ने देर रात अफसार की तहरीर पर अजय बैंडवाला, डॉन, केशू नेता, रमेश सहित 15 लोगों के खिलाफ बलवा, मारपीट, धमकी की धारा में एफआईआर दर्ज की है. इंस्पेक्टर हरमीत सिंह ने बताया कि दोनों मुकदमों के आरोपियों की गिरफ्तारी का प्रयास किया जा रहा है. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें