कानपुर के उर्सला अस्पताल में मंडलायुक्त का निरीक्षण, बगैर मास्क पर की कार्रवाई

Smart News Team, Last updated: Fri, 2nd Apr 2021, 5:05 PM IST
  • उर्सला अस्पताल में कोविड प्रोटोकॉल को फॉलो न करना एक डॉक्टर और दो संविदा कर्मियों पर भारी पड़ गया. कोविड हेल्प डेस्क न होने पर सीएमएस डॉ अनिल निगम को कारण बताओ नोटिस भी जारी किया.
मास्क न लगाने पर कार्रवाई

कानपुर: उर्सला अस्पताल में कोविड प्रोटोकॉल को फॉलो न करना एक डॉक्टर और दो संविदा कर्मियों पर भारी पड़ गया. मंडलायुक्त ने कार्रवाई करते हुए बिना मास्क लगाए ड्यूटी कर रहे इमरजेंसी प्रभारी सीनियर फिजीशियन डॉ शैलेंद्र तिवारी को प्रतिकूल प्रविष्टि दी, जबकि मास्क न लगाने पर कैश काउंटर और प्रवेश पर्ची काउंटर पर तैनात संविदा कर्मी अजय सिंह और अमान को बर्खास्त कर दिया.

मंडलायुक्त डॉ राजशेखर गुरुवार की सुबह अपर निदेशक (स्वास्थ्य और परिवार कल्याण) डॉ जी के मिश्रा के साथ कोविड टीकाकरण की तैयारियों का जायज़ा लेने के लिए यहां आए थे. इस दौरान उन्होंने बगैर मास्क के ड्यूटी करने वाले डॉक्टर शैलेंद्र तिवारी के खिलाफ कार्रवाई की. इसके अलावा मंडलायुक्त ने दो संविदाकर्मियों को बर्खास्त भी किया.

कानपुर में छेड़खानी के विरोध में किशोरी की पीटकर की हत्या, 15 लोगों पर केस दर्ज

निरीक्षण के दौरान ही अस्पताल में कोविड हेल्प डेस्क न होने पर सीएमएस डॉ अनिल निगम को कारण बताओ नोटिस भी जारी किया. उन्होंने शुक्रवार तक हेल्पडेस्क बनाने के निर्देश दिए साथ ही बगैर मास्क के ड्यूटी करने वाले फार्मासिस्ट समेत स्टाफ के कई लोगों को कारण बताओ नोटिस दिया.

कानपुर में 11वीं की छात्रा ने छेड़खानी से परेशान होकर आत्महत्या का किया प्रयास

मंडलायुक्त के मुताबिक कोविड प्रोटोकॉल को ना मानना मरीजों के लिए खतरा पैदा करने जैसा है. मंडलायुक्त डॉ.राजशेखर ने पाया कि अस्पताल आने वाले करीब 90 फीसदी लोग मास्क का इस्तेमाल कर रहे हैं. उन्होंने टीकाकरण स्थल पर अतिरिक्त कुर्सियों की व्यवस्था करने और टोकन प्रणाली लागू करने के निर्देश दिए.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें