मोदी सरकार ने बैंक ग्राहकों के डूबे पैसे वापस कराए, स्मृति बोलीं- बड़ी उपलब्धि

Smart News Team, Last updated: Sun, 12th Dec 2021, 2:46 PM IST
  • कानपुर में पीपुल्स कोऑपरेटिव बैंक के 672 ग्राहकों के डूबे 5-5 लाख रुपये सरकार ने वापस कराए. केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कार्यक्रम में कहा कि ये नरेंद्र मोदी सरकार की बड़ी उपलब्धि है.
केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (फाइल फोटो)

कानपुर: पीपुल्स कोऑपरेटिव बैंक के 672 ग्राहकों के डूबे 5-5 लाख रुपये मोदी सरकार ने वापस करा दिए हैं. सीएसए कृषि विश्वविद्यालय के कैलाश सभागार में आयोजित कार्यक्रम में केंद्रीय बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने ग्राहकों को राशि सौंपी. स्मृति ने कहा कि अगर बैंक डूब जाता है, तो सरकार ग्राहकों को 5 लाख रुपये की गारंटी देती है. इसी के तहत पीपुल्स कोऑपरेटिव बैंक के डूबने के बाद उसके 672 ग्राहकों को ये राशि दी गई है.

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि मोदी सरकार ने आर्थिक मोर्चे पर बड़ी उपलब्धि हासिल की है. सरकार ने बैंकों से जुड़े 1962 में बने कानून को बदलकर जनता को राहत दी. पहले बैंक के डूब जाने पर ग्राहकों को 1-1 लाख रुपये की राशि देने का नियम था लेकिन मिलते किसी को नहीं थे. मगर नरेंद्र मोदी सरकार ने कानून में संशोधन कर इस राशि को एक लाख रुपये से बढ़ाकर 5 लाख रुपये किया. इसी के तहत पीपुल्स कोऑपरेटिव बैंक के ग्राहकों को 5-5 लाख रुपये मिले हैं.

IIT से गीता नगर तक कानपुर मेट्रो में सफर करेंगे PM मोदी, पढ़ें पूरा कार्यक्रम

ईरानी ने कहा कि मोदी सरकार की सोच है, बैंक भले ही डूब जाए लेकिन कोई ग्राहक न डूबे. पूर्ववर्ती सरकारें सिर्फ बातें करती थीं, किसी को राहत नहीं देती थी. मगर मौजूदा सरकार ने एक साथ करोड़ों गरीबों जनधन खाते खोले. पहले योजनाओं के तहत गरीबों के लिए आने वाले पैसे नेता, अफसर और बिचौलिए डकार जाते थे. लेकिन, अब योजनाओं का सरकारी पैसा सीधे गरीब व्यक्ति के बैंक अकाउंट में पहुंच रहा है. ये मोदी सरकार की बहुत बड़ी उपलब्धि है.

अस्पताल की लापरवाही! हाथ का इलाज करवाने गए युवक की गलत इंजेक्शन लगने से मौत

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें