NCERS के सदस्यों ने खोला उप मुख्य सामग्री प्रबंधक के खिलाफ मोर्चा, लगाए ये आरोप

Smart News Team, Last updated: Wed, 18th Aug 2021, 9:46 AM IST
  • नार्थ सेंट्रल रेलवे इंपलाइज संघ (एनसीआरईएस) ने भंडार डिपो के उप मुख्य सामग्री प्रबंधक के खिलाफ एकजुट होकर मोरचा खोल दिया है. एनसीआरईएस के सदस्यों ने उप मुख्य सामग्री प्रबंधक पर आरोप लगाते हुए कहा कि कहा है कि उपमुख्य सामग्री प्रबंधक बंगलों पर कर्मचारियों से काम कराने के लिए बुलवाते हैं, जहां वो कर्मचारियों से घरेलू काम भी करवाते हैं.
यूनियन नेताओं ने उप मुख्य सामग्री प्रबंधक के खिलाफ तानाशाही और कर्मचारी और मनमानी तरीके से काम करवाने का आरोप लगाया है

कानपुर. नार्थ सेंट्रल रेलवे इंपलाइज संघ (एनसीआरईएस) ने भंडार डिपो के उप मुख्य सामग्री प्रबंधक के खिलाफ एकजुट होकर मोरचा खोल दिया है. यूनियन नेताओं ने उन पर तानाशाही और कर्मचारी और मनमानी तरीके से काम करवाने का आरोप लगाया है, एनसीआरईएस के सदस्यों ने उप मुख्य सामग्री प्रबंधक पर आरोप लगाते हुए कहा कि कहा है कि उपमुख्य सामग्री प्रबंधक बंगलों पर कर्मचारियों से काम कराने के लिए बुलवाते हैं, जहां वो कर्मचारियों से घरेलू काम भी करवाते हैं.

मंगलवार को गेट सभा में नार्थ सेंट्रल रेलवे इंपलाइज संघ के कर्मचारियों ने ये तय किया कि सामग्री प्रबंधक ने अपनी कार्यशैली में सुधार नहीं करते हैं तो यूनियन कर्मचारी लामबंद होकर ट्रेनों के चक्काजाम करने के लिए मजबूर हो जाएंगे. इस दौरान ये रेलवे कर्मचारी में काफी नाराज और गुस्से में दिखे. गौरतलब है की ऐसी घटनाएं आए दिनों देश के लगभग सभी रेलवे जोन से सुनने को मिलती है. कर्मचारियों के अधिकार के लिए सरकार और रेलवे प्रशासन को कोई ठोस कदम उठाना चाहिए.

कानपुर विकास प्रधिकरण डीजल घोटाले में बडी कार्रवाई तीनों जूनियर इंजीनियर निलंबित

एनसीआरईएस के मंडल अध्यक्ष मानसिंह और शाखा सचिव एके राय का आरोप है कि डिप्टी मुख्य सामग्री प्रबंधक मनमाने तरीके से कर्मचारियों से काम लेते हैं। इसके अलावा अनलोडिंग और लोडिंग भी गैरकानूनी तरीके से कराई जाती है.

कानपुर में हाईटेंशन लाइन की चपेट में आने से मजदूर समेत ठेकेदार झुलसा

उन्होंने बताया कि उप मुख्य सामग्री प्रबंधक आए दिन तुगलकी फरमान जारी करके कर्मचारियों का मानसिक उत्पीड़न करते हैं। इतना ही नहीं महिला कर्मचारियों के प्रति भी उनका व्यवहार सही नहीं है. इस मौके पर डीके गुप्त, आरएनपी सिंह, अनूप यादव, कृपाकर मिश्र, अजय कुमार, राजेंद्र कुमार सहित कई लोग मौजूद रहे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें