अब कानपुर से प्रयागराज का सफर होगा आसान, इतने घटें में यात्रा कर सकेंगे पूरी

Smart News Team, Last updated: Tue, 31st Aug 2021, 2:17 PM IST
  • कानपुर के चकेरी से प्रयागराज के बीच का सफर और भी आसान होने वाला है. 6 महीने बाद सड़कों को 100 किलोमीटर की रफ्तार से गाड़ियां दौड़ सकेंगी.
कानपुर से प्रयागराज

कानपुर: कानपुर के चकेरी से प्रयागराज के बीच का सफर और भी आसान होने वाला है. 6 महीने बाद सड़कों को 100 किलोमीटर की रफ्तार से गाड़ियां दौड़ सकेंगी. ये निर्माण कार्य पहले ही शुरू होने वाले थे लेकिन कोरोना के कारण इसे रोक दिया गया. लेकिन निर्माण एजेन्सी को एनएचएआई ने 142 दिन की मोहलत दी है. इसलिए सिक्सलेन के निर्माण की समय सीमा फरवरी 2022 तय की गई है. सिक्सलेन पर गाड़ी चलाने के लिए वाहन सवारों को 20 फीसदी तक अधिक टोल देना होगा.

चकेरी से कोखराज के बीच 145 कीमी की दूरी पर गाड़ियां 135 मिनट में पूरी कर लेंगे. फोरलेन के समय यही दूरी तय करने में 3:30 घंटे तक लगते रहे हैं. सिक्सलेन के निर्माण के दौरान जाम और जगह-जगह डायवर्जन के कारण पांच घंटे तक लग रहे हैं. एनएचएआई ने कोरोना की पहली लहर को ध्यान में रखकर निर्माण एजेन्सी को मोहलत दी है. हालांकि एजेंसी ने दूसरी लहर में में भी बंद काम को लेकर और मोहलत देने का प्रस्ताव किया है. लेकिन एनएचएआई ने उसे स्थगित किया है. फरवरी तक सिक्स लेन पूरा करने के लिए कहा है.

बैंक में इन बदलावों के साथ शुरू होगा सितंबर, नहीं किए ये काम तो बैंक से लेन-देन में होगी दिक्कत

एक सर्वे में भी एनएचएआई को फरवरी तक काम पूरा होने की उम्मीद दिखाई दे रही है. एनएचएआई के प्रोजेक्ट डायरेक्टर पकंज मिश्र ने भी इसकी पुष्टि की है.बता दें कि पहले इसी जुलाई और फिर नवम्बर में काम पूरा होना था.चकेरी-इटावा के बाद कानपुर रीजन का यह दूसरा सिक्सलेन हाईवे होगा जिस पर वाहन सवारों को किसी भी कस्बे में रुकना या जाम का शिकार नहीं होना पड़ेगा. सारे कस्बों से ट्रैफिक 48 पुलों से पार कर जाएगा. साथ ही वाराणसी बाईपास की दूरी कानपुर से सवा चार घंटे में तय की जा सकेगी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें