देश से होगा खमीर का निर्यात,बुंदेलखंड में ब्रिटिश कंपनी करेगी 400 करोड़ का निवेश

Smart News Team, Last updated: 14/12/2020 09:59 PM IST
ब्रिटिश कंपनी एबी मोरी द्वारा बुंदेलखंड के चित्रकूट में 400 करोड़ का निवेश किया जा रहा है. इसके बाद देश से खमीर का भी निर्यात हो सकेगा. यूनिट की स्थापना से आसपास के करीब 5000 लोगों को रोजगार मिलेगा.
यूपीसीडा ने एक ब्रिटिश कंपनी को 68 एकड़ जमीन का आवंटन कर दिया है जिसके बाद देश से खमीर भी निर्यात किया जा सकेगा.

कानपुर. बुंदेलखंड के चित्रकूट में ब्रिटिश कंपनी एबी मोरी 400 करोड़ का निवेश करेगी जिसके बाद देश से खमीर भी निर्यात किया जा सकेगा. आपको बता दें कि मेगा औद्योगिक यूनिट की स्थापना के लिए यूपीसीडा ने कंपनी को 68 एकड़ जमीन का आवंटन कर दिया है.

यूपीसीडा के सीईओ मयूर माहेश्वरी ने बताया कि इस यूनिट की स्थापना से 5 हज़ार लोगों को प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार मिलेगा. चित्रकूट के बरगढ़ इलाके में मिली इस जमीन पर कंपनी द्वारा जर्मन एवं स्पेन की मशीनें लगाई जाएंगी जो 33 हजार मिलियन टन खमीर का उत्पादन करेगी. उत्पादन की सारी प्रक्रिया जीरो लिक्विड डिस्चार्ज पर आधारित होगी. यूपीसीडा ने महज 15 दिनों के भीतर निवेश मित्र पोर्टल के जरिए जमीन का आवंटन सस्ती दरों पर किया है.

कोरोना टीकाकरण की पर्ची घर पर पहुंचेगी,कब-कहां और कैसे मिलेगी वैक्सीन, जानें

आपको बता दें कि ब्रिटिश की कंपनी एबी मौरी खमीर के उत्पादन में विश्व की जानी-मानी कंपनियों में से एक है. इस उत्पादन में कंपनी का सालाना टर्नओवर 1.2 बिलियन यूएस डालर का है. कंपनी ने 32 देशों में 52 प्लांट लगाए हैं.

किसान आंदोलन LIVE: कृषि कानूनों के खिलाफ अन्नदाताओं की भूख हड़ताल आज

यूपीसीडा के सीईओ ने यह भी बताया कि विश्व में 45 प्रतिशत खमीर का उत्पादन अकेले यही कंपनी करती है. कंपनी द्वारा मेगा यूनिट लगाने से बुंदेलखंड जैसे पिछड़े इलाके में औद्योगिक विकास को गति मिलेगी. कंपनी द्वारा खमीर उत्पादन के लिए मुख्य फसल के रूप में गन्ना और गेहूं का इस्तेमाल किया जाएगा जो आसपास के किसानों से कंपनी द्वारा सीधे खरीदा जाएगा.इससे किसानों को भी फायदा होगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें