PFI का सूफी इस्लामिक बोर्ड प्रवक्ता मो. कौसर मजीदी को खत, सिर कलम की धमकी

Smart News Team, Last updated: Mon, 1st Feb 2021, 9:11 PM IST
  • प्रवक्ता को भेजे गए धमकी भरे पत्र में पीएफआई संगठन ने अपने आप को मुस्लिमो और मजलूमों का हितैषी बताया है. पत्र में प्रवक्ता को बीजेपी और आरएसएस के एजेंडों को बढ़ावा देने पर अंजाम भुगतने की धमकी दी गई है.
सूफी इस्लामिक बोर्ड के राष्ट्रीय प्रवक्ता मोहम्मद कौसर मजीदी को पीएफआई ने जान से मारने की धमकी दी है.

कानपुर. सूफी इस्लामिक बोर्ड के राष्ट्रीय प्रवक्ता मोहम्मद कौसर मजीदी को पॉपुलर फ्रंट ऑफ़ इंडिया यानी पीएफआई ने जान से मारने की धमकी दी है. राष्ट्रीय प्रवक्ता को उर्दू भाषा में लिखे पत्र के जरिए धमकी दी गई है. पत्र में प्रवक्ता मोहम्मद कौसर मजीदी का सिर कलम करने की बात लिखी है.

मामला जूही थाना क्षेत्र के परमपुरवा का है जहां प्रवक्ता को भेजे गए धमकी भरे पत्र में पीएफआई संगठन ने अपने आप को मुस्लिमो और मजलूमों का हितैषी बताया है. पत्र में प्रवक्ता को बीजेपी और आरएसएस के एजेंडों को बढ़ावा देने पर अंजाम भुगतने की धमकी दी गई है. धमकी पत्र मिलने के बाद बोर्ड के प्रवक्ता मोहम्मद कौसर मजीदी ने पुलिस को मामले की सूचना दी. पुलिस ने पीएफआई द्वारा भेजे गए धमकी पत्र को संज्ञान में लेकर जांच शुरू कर दी है. वहीं पत्र की एक तस्वीर भी सामने आई है जिसमें उर्दू भाषा में लिखा हुआ है.

ठगों ने ऑनलाइन शॉपिंग साइट को लगाया 3 करोड़ का चूना, तरीका जानकर हैरान रह जाएंगे

इस खत को उर्दू में लिखा है इसको ट्रांसलेशन किया है जिसमें कहा है कि पिछले कई महीनों से तुझे बराबर समझाया जा रहा है, लेकिन तू और तेरा सूफी इस्लामी बोर्ड अपनी हरकते नहीं सुधार रहा है. तुझे अच्छी तरह से मालूम है कि पीएफआई कौम के मजलूमों और कमज़ोर लोगों की पहचान है ये कोई खास पंथ का संगठन नहीं है बल्कि पूरे हिंदुस्तान के मुसलमानों की आवाज़ है. तेरे द्वारा बार बार ऐसे काम किए जा रहे हैं जो भाजपा और संघ करती है बल्कि तू मौलानाओं के खिलाफ लिखता है. कभी दावत ए इस्लामी के खिलाफ अभियान चलाता है. अब तेरे हाथ पीएफआई तक पहुंच गए. हज़रत सदर चिश्ती साहब का पुतला फूंक कर तू ये समझ बैठा है कि दुनिया फतेह कर ली. अभी भी वक्त है समझ जा, वरना तेरा अंजाम भी वही होगा जो गद्दारों का होता है यानी जिस्म से सर अलग हो जाएगा. इस खत के जरिए तुझे आगाह किया जा रहा है कि अभी भी मौका है, खुद भी तौबा कर और अपने सदर मंसूर खान और मुफ्ती वसीम अशरफ से भी तौबा करवा दे, वरना तुम तीनो जनाजे के लिए तरस जाओगे.

जुलाई से लगनी शुरू होंगी वाहन पर हाई सिक्योरिटी प्लेट, नहीं लगवाने पर जुर्माना

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें